अदानी फाउंडेशन 3.2 मिलियन लोगों तक पहुंचा - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, February 28, 2019

अदानी फाउंडेशन 3.2 मिलियन लोगों तक पहुंचा



Adani Foundation is touching lives of more than 3.2 million people with its social activities



अहमदाबाद। समाज में बड़ा बदलाव लाने का कोई एक वैश्विक समाधान नहीं है- यह संदेश अदानी फाउंडेशन की चेयरपर्सन डॉ. प्रीति अदानी ने दिया। वह एएमएअहमदाबाद में नेशनल सीएसआर कॉन्क्लेव एंड अवार्ड्स ऑफ गुजरात सीएसआर अथॉरिटी में उद्घाटन सम्बोधन दे रही थीं।

डॉ. प्रीति अदानी ने लोगों के संदर्भ और आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए उनके साथ काम करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा‘‘कच्छ में मेरे शुरूआती प्रयासों और संघर्ष से मछुआरोंपशु पालकोंकिसानों और विधवाओं की स्थिति बदली है। सीएसआर के लक्ष्यों की प्राप्ति के लिये अनूठे और अलग कार्यक्रम चाहिये। फाउंडेशंस के पास प्रयोग के लिये लगनप्रतिबद्धता और साहस होना चाहिये।’’

इस अवसर पर उपस्थित अन्य गणमान्‍य अतिथियों में शामिल थे-  डी. थाराआईएएससीईओ,जीसीएसआरएडॉ. जे. एन. सिंहमुख्य सचिवगुजरात, ए. एम. तिवारीआईएएसअतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह)गुजरात एच. आर. दवेउप प्रबंध निदेशक,एनएबीएआरडी अरविंद अग्रवालअतिरिक्त मुख्य सचिव (वित्त) और  एम. के. दासआईएएसप्रधान सचिवआईएमडी।

डॉ. प्रीति अदानी ने अदानी फाउंडेशन की चेयरपर्सन के रूप में अदानी ग्रुप की सीएसआर गतिविधियों का नेतृत्व किया है। वर्ष 1996 में संस्थापित अदानी फाउंडेशन आज 18 राज्यों में व्यापक परिचालन कर रहा हैजिनमें देश के 2,250 गांव और कस्बे शामिल हैं। पेशेवरों की टीम नवोन्मेषलोगों की भागीदारी और समन्वय के आधार पर काम करती है।

अदानी फाउंडेशन ने 3.2 मिलियन से अधिक लोगों के जीवन को छुआ है और चार प्रमुख क्षेत्रों पर केन्द्रित होकर सामाजिक पूंजी निर्मित करने के लिये लगन से काम कर रहा है- शिक्षासामुदायिक स्वास्थ्यस्थायी आजीविका विकास और अवसंरचना विकास। अदानी फाउंडेशन ग्रामीण और शहरी समुदायों की समावेशी वृद्धि और स्थायी विकास के लिये काम करता है और इस प्रकार राष्ट्र निर्माण में योगदान देता है।

डॉ. प्रीति अदानी ने कहा कि गुजरात सीएसआर अथॉरिटी जैसे संस्थान विकास की पारिस्थितिकी में मौजूद कई संगठनों के लिये अन्वेषण और सीखने के लिये महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा‘‘जीसीएसआरए ने सरलता से कई काम किये हैंयह मध्यम आकार के व्यवसायों की मार्गदर्शक हैताकि वे राष्ट्र के विकास में ऊर्जा लगा सकेंइसने कई प्रयोगों की शुरूआत की है और सीएसआर के लिये रेफरी का काम किया है।’’

डॉ. प्रीति अदानी एक शिक्षाविद् हैंजिनके पास डेंटल सर्जरी में बैचलर्स डिग्री है और उन्होंने कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व (सीएसआर) के क्षेत्र में लंबी यात्रा की है। ‘ग्रोथ विथ गुडनेस’ का मंत्र लेकर डॉ. अदानी एक व्यावसायिक महिला होने के साथ एक जिम्मेदार नागरिक भी हैं और जटिल समस्याओं के लिये स्थायी समाधान निर्मित करने में मदद करती हैं।

अदानी फाउंडेशन डॉ. प्रीति अदानी के ही दिमाग की उपज हैजो दो दशकों से इसका नेतृत्व कर रही हैं। डॉ. अदानी यह सुनिश्चित करती आ रही हैं कि अदानी ग्रुप यथासंभव अधिक से अधिक लोगों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाए।

डॉ. प्रीति अदानी के मार्गदर्शन और नेतृत्व मेंअदानी फाउंडेशन चार प्रमुख क्षेत्रों में अपनी गतिविधियों को संचालित करता है -  शिक्षासामुदायिक स्वास्थ्यस्थायी आजीविका विकास और आधारभूत संरचना विकास।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad