महिंद्रा म्युचुअल फंड ने ‘महिंद्रा प्रगति ब्लूचिप योजना’ शुरू की - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, February 20, 2019

महिंद्रा म्युचुअल फंड ने ‘महिंद्रा प्रगति ब्लूचिप योजना’ शुरू की



MMF_Mahindra Pragati Bluechip Yojana



जयपुर। महिंद्रा ऐंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (एमएमएफएसएल) की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी, महिंद्रा म्युचुअल फंड ने निवेशकों के लिए नई ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम ‘महिंद्रा प्रगति ब्लूचिप योजना’ शुरू की। यह स्कीम उन निवेशकों के लिए है जो बड़ी पूंजीकरण वाली कंपनियों के डेरिवेटिव्स सहित प्रमुख रूप से इक्विटी एवं संबंधित सिक्योरिटीज से बने पोर्टफोलियो में निवेश कर दीर्घकालिक पूंजी वृद्धि एवं विकास अवसर चाहते हैं।
महिंद्रा म्युचुअल फंड के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी,  आशुतोष बिश्नोई ने कहा, ‘‘भारत की बड़ी पूंजीकरण वाली कंपनियों ने विभिन्न बाजार चक्रों में अपेक्षतया कम स्थिरता प्रदर्शित की है, हालांकि इन बाजार चक्रों में वैल्यूएशंस सापेक्षतया वाजिब रहे हैं, जो इसे सदाबहार पसंद बनाते हैं। जीडीपी के बाजार पूंजीकरण ने सकारात्मक प्रवृत्ति प्रदर्शित की है, जबकि बड़े पूंजीकरण ने ऐतिहासिक रूप से बाजार के आधे से अधिक का प्रतिनिधित्व किया है, जिससे यह निवेश के लिए मजबूत स्थिति प्रदान करता है। हमारा मानना है कि यह स्कीम आकर्षक दीर्घकालिक निवेश अवसर उपलब्ध करायेगी, इसलिए अपने निवेश पर उच्च पूंजी वृद्धि के इच्छुक निवेशकों को महिंद्रा प्रगति ब्लूचिप योजना में शामिल होने के बारे में विचार करना चाहिए।’’
नये फंड ऑफर्स 22 फरवरी, 2019 को खुल रहे हैं और 08 मार्च, 2019 को बंद हो जायेंगे। यह स्कीम आवंटन की तिथि से 5 कारोबारी दिनों के भीतर लगातार बिक्री एवं पुनर्खरीद के लिए पुनः  खुलेगी।
महिंद्रा म्युचुअल फंड के चीफ इक्विटी स्ट्रेटजिस्ट,  वेंकटरमण बालासुब्रमण्यन ने कहा, ‘‘महिंद्रा प्रगति ब्लूचिप योजना का उद्देश्य अल्फा जेनरेट करने पर जोर देते हुए दमदार तरीके से उच्च कन्विक्शन कंसेंट्रेटेड पोर्टफोलियो हासिल करना है, और निवेश-वृद्धि एवं मूल्य की मिश्रित शैली का पालन करना है। रणनीतिक दृष्टि से, इस फंड का उभरती वृहत् प्रवृत्तियों के आधार पर विभिन्न अवधियों में संभावनाशील क्षेत्रों की पहचान के लिए टॉप डाउन एप्रोच होगा; हालांकि इस फंड में लघु से मध्यम निवेश अवधियों के लिए अच्छी गवर्नेंस एवं दमदार लीडरशिप टैक्टिकल कॉल्स वाली 100 बड़ी कंपनियों से बॉटम अप स्टॉक सेलेक्शन भी होगा।’’
इस स्कीम में बड़ी पूंजीकरण वाली कंपनियों के इक्विटी एवं इक्विटी संबंधित उपकरणों में न्यूनतम 80 प्रतिशत का निवेश किया जायेगा, और 20 प्रतिशत तक निवेश अन्य कंपनियों के इक्विटी एवं इक्विटी संबंधित उपकरणों में किया जायेगा। इस स्कीम में डेब्ट एवं मुद्रा बाजार प्रतिभूतियों में 20 प्रतिशत तक निवेश किया जायेगा, और आरईआईटी एवं आईएनवीआईटी द्वारा जारी इकाइयों में 10 प्रतिशत तक निवेश किया जायेगा।




No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad