प्रवासी मजदूरों के लगभग 700 बच्चों को अदाणी ग्रुप के कर्मचारी स्वयंसेवियों ने नया स्कूल दिया - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, March 7, 2019

प्रवासी मजदूरों के लगभग 700 बच्चों को अदाणी ग्रुप के कर्मचारी स्वयंसेवियों ने नया स्कूल दिया



 Over 700 children of migrant labourers get a new school from volunteers employed by the Adani Group

मूंदड़ा। अदाणी ग्रुप के कर्मचारियों ने मूंदड़ाकच्छ के प्रवासी मजदूरों के लगभग 704 बच्चों की शिक्षा के लिये व्यक्तिगत रूप से धन दिया हैक्योंकि उन्होंने हाल ही में यहाँ शिक्षा का अभाव देखा था। कच्छ के मूंदड़ा में एक रूटीन कम्युनिटी मोबिलाइजे़शन एक्सरसाइज के दौरान इस समस्या का पता चला था। हिंदी बोलने वाले प्रवासी मजदूरों के बच्चे स्थानीय स्कूलों में नहीं जा रहे थेक्योंकि उनके पास धन नहीं था और वह घर पर ही समय बिता रहे थे।

उनकी समस्याओं को अच्छी तरह समझने के बाद अदाणी के कर्मचारियों के एक स्वयंसेवी समूह ने अपनी पूंजी से आवश्‍यक सहयोग मुहैया कराने का वचन दिया। स्थायी अधोसंरचनाशिक्षक,शिक्षा सामग्रीस्टूडेंट किट्सअनुमानित अतिरिक्त खर्च और परिचालन की लागत पर एक विस्तृत योजना बनाई गई। इसका लक्ष्य समाज को वृद्धि के लिये एक स्वस्थ वातावरण प्रदान करते हुए सभी के लिये अच्छाई के साथ विकास के दर्शन का विस्तार करना था। निस्वार्थ भावना और अटल प्रेरणा से अदाणी ग्रुप के इन कर्मचारियों ने मानवता के लिये यह उत्कृष्ट प्रयास किया।

कर्मचारियों की इस महान पहल पर टिप्पणी करते हुए अदाणी फाउंडेशन की चेयरपर्सन डॉ. प्रीति अदाणी ने कहा, ‘‘अपने समुदाय से बाहर के लोगों का जीवन बेहतर बनाने के लिये प्रतिबद्धता और रूझान चाहिये। यह कहते हुए मुझे गर्व हो रहा है कि हमारे कर्मचारियों के एक समूह ने अपनी इच्छा से यह काम किया है। अच्छाई के साथ विकास की अदाणी ग्रुप की संस्कृति के अनुसार हमारे कर्मचारियों ने प्रशंसनीय सामाजिक कार्य किया है। हमें उम्मीद है कि अब यह बच्चे बड़े सपने देखेंगे और राष्ट्र निर्माण में अपनी भूमिका निभाएंगे और अगली पीढ़ी को सार्थक संदेश भी देंगे।’’

इस विचार को एक माह के भीतर साकार किया गया और अब बच्चे अपने स्कूल में पढ़ रहे हैं। अदाणी ग्रुप की कर्मचारी स्वयंसेवी योजना के अंतर्गत उन्हें पोषक आहारयूनिफॉर्म और किताबें दी जा रही हैं। बच्चों के लिये स्पेशल स्मार्ट ई-लर्निंग क्लासेस की व्यवस्था भी की गई है। शिक्षा का आदर्श वातावरण प्रदाने करने के लिये स्कूल के इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को भी अपग्रेड किया जा रहा है। इसके अलावाअदाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन द्वारा प्रदत्त स्कूल बसें बच्चों को घर और स्कूल के बीच परिवहन सुविधा प्रदान कर रही हैं।

अदाणी फाउंडेशन ने समाज की बेहतरी के लिये बदलाव करने में बड़ी भूमिका निभाई है। अदाणी ग्रुप अपनी प्रणाली और कर्मचारियों के बीच ‘‘अच्छाई के साथ विकास’’ के मूल्यों को जीवंत कर रहा है। कर्मचारियों को समाज के वंचित वर्ग के लिये कार्य करने के लिये प्रोत्साहित किया जाता हैताकि समाज की वृद्धि में उनकी प्रेरणा और योगदान मिले।

अदाणी ग्रुप मूंदड़ा के भीतर और आस-पास के क्षेत्र के सर्वांगीण सामाजिक और आर्थिक विकास में गहनता से संलग्न है। अदाणी फाउंडेशन ने सरकारी स्कूलों में उत्थान’ प्रोग्राम शुरू किया है। यह प्रोग्राम शिक्षा के चार स्तंभों पर आधारित हैः विद्यार्थीशिक्षक,अभिभावक और अधोसंरचना। उत्थान के संरचनात्मक दृष्टिकोण से वल्लभ विद्यालय का लाइब्रेरी भी समृद्ध होगी और स्मार्ट क्लासेस की भी शुरुआत की जायेगी। अदाणी ईवीपी संदर्भ द्वारा संचालित है और कर्मचारियों ने शिक्षाआंगनवाड़ियों के सुधारराष्ट्रीय स्वच्छता मिशन को गति देने और रक्तदान में भाग लिया है। यह यात्रा जारी रहेगी।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad