होण्डा 2 व्हीलर्स इण्डिया ने 2019 मोटरस्पोर्ट्स के लिए अपनी महत्वाकांक्षी योजनाओं का ऐलान किया - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Friday, March 1, 2019

होण्डा 2 व्हीलर्स इण्डिया ने 2019 मोटरस्पोर्ट्स के लिए अपनी महत्वाकांक्षी योजनाओं का ऐलान किया





 Honda 2Wheelers India announces ambitious 2019 motorsport direction


चेन्नई। भारत से विश्वस्तरीय मोटरस्पोर्ट राइडर्स एवं टीम मैकेनिक्स तैयार करने के लिए प्रयासरत होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इण्डिया प्रा लिमिटेड ने  2019 सीज़न के लिए अपनी इंटरनेशनल रेसिंग टीम का ऐलान किया।
2019 में होण्डा ने अपने उग्र त्रि-आयामी दृष्टिकोण के साथ ‘राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय चैम्पियनशिप्स के लिए भारतीय राइडरों के विकास’ की दिशा में अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि की।
2019 में भारत से राइडरों के विकास को बढ़ावा देने तथा इन्हें अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर लाने की अपनी योजनाओं के बारे में बताते हुए  प्रभु नागराज, वाईस प्रेज़ीडेन्ट- ब्राण्ड एण्ड कम्युनिकेशन्स, होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इण्डिया प्रा लिमिटेड ने कहा, ‘‘होण्डा जीतने के उत्साह और राइडिंग की चुनौती के लिए प्रतिबद्ध है। बहुत सारे लोगों को हमसे उंची उम्मीदें हैं, इसलिए हम सर्वश्रेष्ठ संभव परिणाम पाने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे। भारत के दो सर्वश्रेष्ठ राइडर एशिया स्तर पर आईडेमिट्सु होण्डा रेसिंग इण्डिया का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। हमें विश्वास है कि हमारे ये राइडर शीर्ष पायदान के मुक़ाम तक पहुंचेंगे और 2019 में अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर भारत का नाम रौशन करेंगे।’’
‘‘पिछले साल हमने अपने मोटरस्पोर्ट निर्देशों का ऐलान किया था। और अब अपनी प्रतिबद्धता को जारी रखते हुए हम एशियाई मंच पर 2 नेक्स्ट जनरेशन राइडरों के विकास के लिए तेज़ी से काम कर रहे हैं। मोटोजीपी के लिए शीर्ष पायदान के भारतीय राइडरों को तैयार करने के लिए हम आईडेमिट्सु होण्डा इण्डिया टैलेंट हंट के माध्यम से 13 साल के युवाओं में से भी प्रतिभाशाली राइडरों की पहचान कर रहे हैं। होण्डा ने युवा भारतीय राइडरों को उनके सपने साकार करने में मदद करने के लिए उग्र योजनाएं तैयार की हैं।’’
एआरआरसी और टीटीसी में होण्डा 2 व्हीलर्स इण्डिया की टीम आइडेमिट्सु होण्डा रेसिंग इण्डिया
24 सालों से एशिया की सबसे मुश्किल रोड रेसिंग प्रतियोगिता, एशिया रोड रेसिंग चैम्पियनशिप (एआरआरसी) में भारत की एकमात्र टीम आईडेमिट्सु होण्डा रेसिंग इण्डिया एशिया प्रोडक्शन 250 सीसी वर्ग में सर्वश्रेष्ठ एशियाई राइडरों के लिए मुश्किल चुनौती के रूप में उभरेगी।
एआरआरसी में टीम का प्रतिनिधित्व करने वाले अनुभवी राइडर राजीव सेथू के लिए यह साल एआरआरसी में तीसरा सीज़न होगा। राजीव ने 2017 से एआरआरसी में शुरूआत करने के बाद लगातार सुधार किया है; अपने पहले साल में 46वें स्थान से आगे बढ़कर उन्होंने भारत के लिए कई पॉइन्ट्स स्कोर किए और 2018 में 27वें पॉज़िशन तक पहुंच गए।
अपने 17 वर्षीय साथी रूकी राइडर सेंथिल कुमार के साथ वे शानदार परफोर्मेन्स दे रहे हैं। 2018 में सेंथिल ने थाई टैलेंट कप में अपने पहले साल में शानदार परिणाम दिए और डोमेस्टिक फ्रंट पर 2018 आईएनएमआरसी प्रो स्टाकॅ 165 सीसी चैम्पियनशिप में तीसरी पॉज़िशन हासिल की।
इस मौके पर राजीव सेथू ने कहा, ‘‘यह एआरआरसी में मेरा तीसरा साल है और मैं होण्डा 2 व्हीलर्स इण्डिया के प्रति आभारी हूँ जिन्होंने मुझे यह प्लेटफॉर्म प्रदान किया है। मेरे सपनों के साथ मेरा अनुभव और कौशल विकसित हो रहा है और मैं अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अच्छा परफोर्मेन्स दे पा रहा हूं। हर सीज़न के साथ मैं अपने सपनों की ओर बढ़ रहा हूं। 2019 के लिए मैं होण्डा की सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षण सुविधाओं के साथ डटकर तैयारी कर रहा हूं। इस साल मैंने अपने आप को चुनौती दी है और मैं इस सीज़न टॉप 15 में आने का पूरा प्रयास करूंगा।’’
एआरआरसी में अपनी शुरूआत पर बात करते हुए सेंथिल कुमार ने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि मुझे अपनी पेशेवर रेसिंग की शुरूआत के मात्र 2 सालों में होण्डा के साथ इस अन्तर्राष्ट्रीय मंच तक पहुंचने का अवसर मिला है। एआरआरसी एशिया की सबसे मुश्किल रेस में मेरा पहला अनुभव होगा। मैं बेहद उत्साहित हूं कि मुझे आइडेमिट्सु होण्डा रेसिंग टीम के साथ जुड़ने तथा अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला है। थाई टैलेंट कप के बाद यह मौका मेरे लिए सपना साकार होने जैसा है और मैं अपने देश का नाम रौशन करने के लिए दिन-रात कड़ी मेहनत कर रहा हूं। मुझे विश्वास है कि होण्डा टीम के साथ आने वाले समय में मुझे बहुत कुछ सीखने का मिलेगा।’’
थाईलैण्ड टैलेंट कप (टीटीसी) 2019 के लिए आईडेमिट्सु होण्डा इण्डिया टैलेंट हंट
पेशेवेर रेसिंग में देर से प्रवेश भारतीय राइडर के लिए अन्तर्राष्ट्रीय चैम्पियनशिप तक पहुंचने में सबसे बड़ी बाधा रही है। लेकिन होण्डा ने इसे चुनौती दी और प्रतिभाशाली युवा राइडरों की क्षमता को पहचान कर उन्हें यहां तक पहुंचने में मदद की है।
इस अनूठे मंच -आइडेमिट्सु होण्डा इण्डिया टैलेंट हंट की शुरूआत 2018 में हुई और आज यह देश में बेहद सफल हो चुकी है। होण्डा के विशेषज्ञों ने 7 राज्यों के 21 शहरों से 132 युवा राइडरों में से 12 प्रतिभाशाली राइडरों को पहचान।
थाई टैलेंट कप के लिए 2019 सीज़न के नए राइडर हैं- चेन्नई से 14 वर्षीय मोहम्मद मिकैल और गदग, कर्नाटक से 18 वर्षीय कृतिक हबीब। पिछले साल आईडेमिट्सु होण्डा इण्डिया टैलेंट कप में टॉप पॉज़िशन तक पहुंचने से लेकर टैलेंट हंट के इन सितारों ने होण्डा के एशियाई राइडर डेवलपमेन्ट प्रोग्राम में लम्बी दूरी तय की है।
विश्वस्तरीय राइडर एवं टेकनिशियन श्री पी प्रभाकरण को प्राथमिकता देते हुए, उन्हें होण्डा एशिया ‘ड्रीम रेसिंग टीम विद शोवा’ में शामिल होने तथा एचएडीआर टेकनिशियन टीम में नई कैटेगरी सुपरबाईक 1000 सीसी क्लास (एएसबी 1000) में प्रतिस्पर्धा करने का मौका मिलेगा।
2019 एफआईएम एशिया रोड रेसिंग चैम्पियनशिप के बारे मेंः एफआईएम एशिया रोड रेसिंग चैम्पियनशिप का 24वां संस्करण एशिया की सबसे प्रतिस्पर्धी मोटरसाइकल रोड रेसिंग प्रतियोगिता है, जिसका आयोजन 1996 से किया जा रहा है। प्रतियोगिता के 2019 सीज़न में 5 देशों (मलेशिया 2, ऑस्ट्रेलिया, थाईलैण्ड 2, जापान और दक्षिणी कोरिया) कुल 7 राउण्ड्स का आयोजन किया जाएगा, जिसकी शुरूआत 8 मार्च 2019 से होगी तथा दिसम्बर 2019 में इसका समापन होगा। एआरआरसी, सुपरस्पोर्ट वर्ल्ड चैम्पियनशिाप की तरह रेसिंग की प्रोडक्शन बेस्ड कैटेगरी का एक भाग है। इस साल चैम्पियनशिप में चार मुख्य वर्ग होंगे। इसमें नया वर्ष एशिया सुपर बाईक 1000 तथा मौजूदा तीन वर्ग- सुपरस्पोर्ट्स 600 सीसी, एशिया प्रोडक्शन 250 सीसी और अंडरबोर्न 150 सीसी शामिल हैं।  


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad