ज्योति लैबोरेटरीज लिमिटेड ने एम आर ज्योति को प्रबंध निदेशक पद पर नियुक्त किया - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, May 15, 2019

ज्योति लैबोरेटरीज लिमिटेड ने एम आर ज्योति को प्रबंध निदेशक पद पर नियुक्त किया



ज्योति लैबोरेटरीज ने नए लोगो और ब्रांड पहचान का भी किया अनावरण
कोच्चि। भारतीय घरेलू उत्पाद एफएमसीजी कंपनी ज्योति लैबोरेटरीज लिमिटेड (जेएलएल) ने एम. आर. ज्योति की प्रबंध निदेशक के रूप में नियुक्ति की घोषणा की। उनकी नियुक्ति 01 अप्रैल, 2020 से प्रभावी होगी।  एम पी रामचंद्रन, कंपनी के संरक्षक अध्यक्ष के रूप में काम करते रहेंगे।
 एम. आर. ज्योति 14 वर्षों से ज्योति लैबोरेटरीज का हिस्सा रही हैं और मार्केटिंग व ब्रांड कम्युनिकेशन में उन्हें महारत हासिल है। इससे पहले उनका पद मुख्य विपणन अधिकारी और कंपनी की पूर्णकालिक निदेशक का था। उन्होंने हेंको, प्रिल और मार्गों जैसे ब्रांडों के एकीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और उन्होंने अधिग्रहण के बाद से हेंकेल इंडिया के काम को सफलतापूर्वक संभाला है। कंपनी ने आज अपने नए लोगो का भी अनावरण किया।
अपनी नियुक्ति पर टिप्पणी करते हुए, एम. आर. ज्योति ने कहा, ‘मैं ज्योति लैबोरेटरीज की प्रबंध निदेशक के रूप में कार्यभार संभालते हुए सम्मानित महसूस कर रही हूं। मेरी शीर्ष प्राथमिकताएं, नवाचार और निरंतर अनुसंधान, विकास की ओर केंद्रित वृद्धि के साथ मुख्य ब्रांडों को और मजबूत करना होगा। इसके अलावा, मेरा लक्ष्य कंपनी की बिक्री और वितरण को मजबूत करना है।’
ज्योति ने कहा, ‘मुझे कंपनी की संस्कृति और मूल्य प्रणाली को बरकरार रखते हुए अपने पिता की विरासत को आगे ले जाना है।’
ज्योति ज्योति लैबोरेटरीज के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक  एम पी रामचंद्रन ने कहा, ‘मुझे बहुत खुशी है कि अगली पीढ़ी जिम्मेदारी के साथ कार्यभार संभालने के लिए तैयार है और अच्छी तरह से योग्य है, कंपनी को विकास के अगले स्तर तक ले जाने के लिए प्रशिक्षित है। मुझे पूरा विश्वास है कि प्रबंध निदेशक के रूप में मेरी बेटी एम. आर. ज्योति कंपनी के सभी हितधारकों को बेहतर परिणाम देगी। पिछले 36 वर्षों में, हम एक ब्रांड उजाला कंपनी से एक मल्टीब्रांड एफएमसीजी राष्ट्रीय कंपनी तक का लंबा सफर तय कर चुके हैं।’
 रामचंद्रन ने कहा, ‘ ज्योति पिछले 14 वर्षों से बोर्ड में हैं, और उन्होंने कंपनी के कामकाज को करीब से देखा है। वह वरिष्ठ प्रबंधन टीम में बहुत लंबे समय से कंपनी से जुड़ी हुई हैं और मुझे यकीन है कि अन्य अनुभवी और योग्य पेशेवरों के साथ, वे कंपनी को विकास के अगले चरण के लिए तेजी से आगे ले जाएंगी।’
36 साल पुरानी घरेलू तौर पर विकसित हुई एफएमजीसी कंपनी ज्योति लैबोरेटरीज की शुरुआत महज 5000 रुपये के शुरुआती निवेश से हुई थी जबकि आज इसकी मार्केट कैपिटल 6,000 करोड़ रुपए से अधिक है। फैब्रिक केयर, डिशवॉश, घरेलू कीटनाशक और व्यक्तिगत देखभाल जैसे प्रमुख क्षेत्रों में मौजूद, कंपनी के पास उजाला, मार्गो, मैक्सो, एक्सो, हेंको और प्रिल जैसे छह पावर ब्रांड हैं। वित्त वर्ष 2018-19 के वित्तीय वर्ष के लिए कंपनी का शुद्ध राजस्व 1,769 करोड़ रुपए था, कंपनी ने 193 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ दर्ज किया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad