पॉलीकैब इंडिया लिमिटेड का राजस्व 79,560 मिलियन रुपए रहा - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, May 15, 2019

पॉलीकैब इंडिया लिमिटेड का राजस्व 79,560 मिलियन रुपए रहा



 Polycab India Limited posts record annual performance




मुंबई। पॉलीकैब इंडिया लिमिटेड ने  चौथी तिमाही और 31 मार्च 2019 को समाप्त पूरे वर्ष के लिए अपने समेकित परिणामों की घोषणा की।
परिणामों पर टिप्पणी करते हुए, पॉलीकैब इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक,  इंदर जयसिंघानी ने कहाः ‘मैं अपने आईपीओ के लिए बड़े स्तर पर ओवरस्क्रिप्शन के लिए अपने निवेशकों के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करना चाहता हूं कि आपने हम पर अपना विश्वास दोहराया। हमें मिली मजबूत प्रतिक्रिया पॉलीकैब के मूल्य प्रस्ताव में निवेशकों के भरोसे को दर्शाती है। वित्त वर्ष 2019 सभी व्यावसायिक क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन करने के साथ रिकॉर्ड प्रदर्शन का वर्ष रहा है। हमारा पैट 40 फीसदी बढ़कर 500 करोड़ रुपए हो गया है। हमने वित्त वर्ष 2019 के लिए टॉप-लाइन और प्रॉफिटेबिलिटी दोनों पर काम किया है और हमें विश्वास है कि आने वाले वर्षों में हम उद्योग में इस अग्रणी प्रदर्शन को जारी रखेंगे।
31 मार्च 2019 को समाप्त वर्ष के लिए समेकित प्रदर्शन पर एक नजरः
वित्तीय रिकॉर्ड
राजस्व (उत्पाद शुल्क का शुद्ध) 18 फीसदी बढ़कर 79,560 मिलियन रुपए, इस वृद्धि में केबल और वायर के कारोबार का सबसे बड़ा हाथ है।
वायर और केबल का कारोबार 11 फीसदी बढ़कर वित्त वर्ष 2019 में 69,295 मिलियन रुपए हो गया, जबकि वित्त वर्ष 2018 में यह 62,423 मिलियन रुपए था
एफएमईजी कारोबार वित्त वर्ष 2018 के 4,853 मिलियन रुपए से 33 फीसदी बढ़कर वित्त वर्ष 2019 में 6,433 मिलियन रुपए हो गया
ईबीआईटीडीए 28 फीसदी बढ़कर 10,142 मिलियन रुपए हो गया, ऐसा बिक्री मिश्रण में बदलाव के कारण हुआ, ईबीआईटीए मार्जिन 11.7 फीसदी से बढ़कर 12.7 फीसदी हो गया
केबल और वायर के कारोबार में ईबीआईटी मार्जिन 10.1 फीसदी से बढ़कर 11.8 फीसदी हो गया
पीएटी वित्त वर्ष 2018 के 3,586 मिलियन रुपए से 40 फीसदी बढ़ कर वित्त वर्ष 2019 के लिए 5,003 मिलियन रुपए हो गया।
पीएटी मार्जिन, वित्त वर्ष 2019 में पीएटी मार्जिन 6.3 फीसदी हो गया जबकि वित्त वर्ष 2018 में यह 5.3 फीसदी था
घोषित लाभांश 3 रुपए प्रति शेयर, पेआउट कट 10 फीसदी

31 मार्च 2019 को समाप्त तिमाही के लिए प्रदर्शन पर एक नजरः
2019 के वित्तीय वर्ष की चौथी तिमाही में राजस्व 16 फीसदी बढ़कर 24,448 मिलियन रुपए हो गया, 2018 की समान अवधि के लिए यह 21,102 मिलियन रुपए था
2019 के वित्तीय वर्ष की चौथी तिमाही में वायर और केबल सेगमेंट 13 फीसदी बढ़कर 2018 की इसी तिमाही के 18,270 मिलियन रुपए से 21,216 रुपए हो गया
ईबीआईटीडीए 2,630 मिलियन रुपए पर है और पीएटी 1,373 मिलियन रुपए पर
ईबीआईटीडीए मार्जिन में बदलाव बिक्री और उत्पाद मिश्रण द्वारा संचालित रहा
वार्षिक आधार पर, बिक्री मिश्रण के आधार पर कुछ तिमाहियों का ईबीआईटीडीए ज्यादा या सामान्य हो सकता है। पिछली स्थिर ईबीआईटीडीए मार्जिन दर 11-13 फीसदी के बीच है

मजबूत बैलेंस शीट और नकदी प्रवाह
सकल ऋण में 66 फीसदी की कमी, वित्त वर्ष 2018 में 8,003 मिलियन रुपए की तुलना में वित्त वर्ष 2019 में 2,724 मिलियन रुपए
3,176 मिलियन रुपए के रूप में कुल नकदी और तरल निवेश के साथ मजबूत वित्तीय स्थिति। यह कंपनी को शुद्ध नकदी की स्थिति में ले जाता है
आरओएसई और आरओई क्रमशः 27.9 फीसदी और 17.5 फीसदी पर, वित्त वर्ष 2018 में यह आंकड़ा 21.0 फीसदी और 15.2 फीसदी पर था
31 मार्च 2018 के 0.34  % तुलना में 31 मार्च 2019 तक इक्विटी में ऋण 0.1 %


















No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad