सियाम ने 7400 ऑटोमोबाइल डीलर्स और अपने सर्विस स्टेशंस पर विश्व पर्यावरण दिवस मनाया - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, June 6, 2019

सियाम ने 7400 ऑटोमोबाइल डीलर्स और अपने सर्विस स्टेशंस पर विश्व पर्यावरण दिवस मनाया


SIAM observes World Environment Day Across 7400 Automobile Dealers and their Service Station Nationally



सियाम ने एक मिलियन से अधिक लोगों तक पहुंचने के लिए अपनी सेफ पहल के जरिए राष्ट्रव्यापी अभियान चलाया

नई दिल्ली। सोसायटी फॉर ऑटोमोटिव फिटनेस ऐंड एनवायरमेंट (सेफ), जो भारत के ऑटोमोटिव इंडस्ट्री बॉडी सियाम (सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्यूफैक्चरर्स) की पहल है, ने विश्व पर्यावरण दिवस मनाया। सेफ ने देश भर के 7400 ऑटोमोबाइल डीलर्स के यहां पर्यावरण के प्रति जागरूकता पैदा करने वाली कई गतिविधियां आयोजित कीं।

इस वर्ष के विश्व पर्यावरण दिवस का थीम ‘‘वायु प्रदूषण’’ है, जिसने पर्यावरण के लिए सबसे बड़ा खतरा पैदा किया है। सियाम वायु प्रदूषण के प्रमुख खतरों को समझता है व स्वीकार करता है, और एक जिम्मेवार संगठन के रूप में, यह कम्यूटर्स में टिकाऊ विकास को बढ़ावा देने के लिए अनेक जनजागरूकता अभियान चला रहा है। वर्तमान में, भारत ठै ट उत्सर्जन मानदंडों को अपनाने की दिशा में लंबे कदम बढ़ा रहा है और यह वर्ष 2020 में ठै टप् उत्सर्जन मानदंडों के पालन के लिए पूरी तरह से तैयार है। यह दुनिया के उत्सर्जन मानदंडों के इतिहास में किसी भी देश द्वारा लिया गया सबसे कम माइग्रेशन टाइम है।

इस दिवस के अवसर पर कुछ विशेष गतिविधियां आयोजित की गईं, जैसे-एक मिलियन गाड़ियों के लिए दिन भर निःशुल्क पीयूसी (पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल) चेक-अप और अधिकृत केंद्रों पर निःशुल्क पीयूसी प्रमाण-पत्र जारी किया जाना। प्रमुख शहरों में चिन्हित लंबे ट्रैफिक लाइट्स पर निःशुल्क पौधे वितरित किये गये। डीलरशिप आउटलेट्स पर कई अनूठी पहलें आयोजित की गईं, जैसे-बच्चों के लिए पर्यावरण संबंधी जागरूकता प्रतियोगिता, ग्राहकों के लिए पर्यावरण संरक्षण सुझाव, पौधा वितरण, पौधारोपण, ग्रीन प्रोसेसंस, जागरूकता रैलियां आदि।

कुछ शहरों में जहां पानी की कमी चिंता का एक प्रमुख विषय बन चुकी है, ऑटोमोबाइल डीलर्स ने गाड़ियों की पानी से धुलाई करने के बजाये ड्राई वॉशिंग की। इस पहल से न केवल पानी बचाने में मदद मिली, बल्कि दीर्घकालिक रूप से, यह हमारे जल संसाधनों को संरक्षित रखने के प्रति ग्राहकों को जागरूक बनाने में मदद करेगा।

इस अवसर पर, सियाम के महानिदेशक -  विष्णु माथुर ने कहा, ‘‘भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को दुनिया के समक्ष खड़े पर्यावरणीय खतरों की पूरी जानकारी है। सियाम में, हम पर्यावरण के प्रति वचनबद्ध हैं और हम दुनिया को स्वस्थ एवं टिकाऊ बनाने की दिशा में हरसंभव कोशिश करेंगे। 5 जून 2019 को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर, सियाम-सेफ सदस्यों के सहयोग से सियाम हमारे पर्यावरण की रक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करने हेतु कई कदम उठाने की योजना बना रहा है। हमारे 7400 सदस्य डीलर्स और उनके सर्विस स्टेशन इस पहल में भाग ले रहे हैं और वाहनों के प्रदूषण स्तर को नियंत्रित कर रहे हैं और ग्राहकों को निःशुल्क पीयूसी उपलब्ध कराया जा रहा है और उनके वाहनों के उपयुक्त रखरखाव के बारे में जानकारी प्रदान कर रहे हैं। इस अभियान के साथ, हमारा उद्देश्य वाहन मालिकों को जागरूक करना और उन्हें परिवर्तन का अभिकारक बनाना है। इससे अधिक स्वच्छ, अधिक हरे-भरे एवं अधिक सुरक्षित वातावरण सुनिश्चित हो सकेगा। इस पहल में समुदाय की भागीदारी अत्यंत महत्वपूर्ण है, और उनकी सहायता से, हमें पक्का विश्वास है कि हम अपने लक्ष्य को हासिल कर सकेंगे।’’

विशेष रूप से पर्यावरण और सुरक्षा से संबंधित सभी वैधानिक वृतियों के अनुपालन में ऑटोमोबाइल क्षेत्र विशिष्ट रूप से सक्रिय और अग्रगामी रहा है। ऑटोमोटिव क्षेत्र को मौजूदा पर्यावरण नियमों का पूरी तरह से पालन करने का गौरव प्राप्त है। मोटर वाहन क्षेत्र पर्यावरण, मानव स्वास्थ्य और जलवायु परिवर्तन पर जीवन चक्र के हर चरण के दौरान ऑटोमोबाइल के प्रभाव को कम करने के लिए नियमित रूप से और व्यवस्थित रूप से आकलन, मूल्यांकन और सभी आवश्यक उपाय कर रहा है। यह उम्मीद की जाती है कि 2020 और उसके बाद भी, समग्र रूप से वायु की गुणवत्ता और पर्यावरण पर भारी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। पर्यावरण संरक्षण का संदेश फैलाने के लिए विश्व पर्यावरण दिवस के दौरान विभिन्न अभियान को आयोजित करने के लिए सभी सियाम सदस्य एक साथ आ रहे हैं।
पहल के एक हिस्से के रूप में, विभिन्न सगाई की गतिविधियाँ भी आयोजित की गईं, जिसमें बच्चों के लिए कई प्रतियोगिताएं शामिल थीं जो उन्हें जिम्मेदार युवा वयस्क बनने में मदद करेंगे। इसके अलावा, ग्राहकों को सैपलिंग वितरण और वृक्षारोपण ड्राइव के साथ-साथ सुझाव और सुझाव दिए गए थे। हरे रंग के जुलूस के चक्र को पूरा करने के लिए, ऑटोमोबाइल डीलरशिप आउटलेट्स पर जागरूकता रैलियां की गईं।
कई वाहन निर्माता जैसे अशोक लिलैंड लिमिटेड, बजाज ऑटो लिमिटेड, जनरल मोटर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड, होंडा मोटरसाइकिल ऐंड स्कूटर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड, इंडिया यामाहा मोटर प्राइवेट लिमिटेड, महिंद्रा ऐंड महिंद्रा लिमिटेड, मारुति सुजुकि इंडिया लिमिटेड, निसान मोटर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, रिनॉल्ट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, स्कोडा ऑटो इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, ऑडी इंडिया, फॉक्सवैगन, पोर्षे, टोयोटा किलोस्कर मोटर प्राइवेट लिमिटेड, टीवीएस मोटर कंपनी लिमिटेड अपनी डीलरशिप्स के जरिए इस समान्य उद्देश्य में हाथ बंटायेंगे।



No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad