बीएसडीयू ने की स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2019 हार्डवेयर एडिशन के ग्रैंड फिनाले की मेजबानी - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Monday, July 8, 2019

बीएसडीयू ने की स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2019 हार्डवेयर एडिशन के ग्रैंड फिनाले की मेजबानी

BSDU hosting Grand Finale of Smart India Hackathon 2019 Hardware Edition




जयपुर। भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी (बीएसडीयू) ने स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2019 हार्डवेयर एडिशन के ग्रैंड फिनाले की मेजबानी का आरंभ किया स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2019 का आयोजन मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से किया जा रहा है। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ने दिल्ली से इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया। जयपुर स्थित भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी (बीएसडीयू) इस राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता की मेजबानी करने वाले 18 सेंटर्स में से एक है। 18 सेंटर में बीएसडीयू सहित आईआईटी, एनआईटी और भारत भर के शीर्ष इंजीनियरिंग कॉलेज जैसे संस्थान शामिल हैं। समारोह के मुख्य अतिथि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष  राजीव अरोड़ा थे जबकि 2016 में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के हाथों ’नारी शक्ति’ सम्मान से सम्मानित दीपा माथुर, जेकेे लक्ष्मीपत यूनिवर्सिटी के उप कुलपति डॉ आर एल रैना, आरयूजे एंड एसआरएम मशीन्स प्राइवेट लिमिटेड के एम डी जयंत जोशी, भारतीय स्किल डवलपमेंट यूनिवर्सिटी (बीएसडीयू), जयपुर में कंप्यूटिंग स्किल्स के प्रोफेसर एंड प्रिंसिपल और स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2019 की ऑर्गनाइजिंग कमेटी के चेयरमैन प्रो अनुराग और बीएसडीयू के प्रेसीडेंट डॉ. (ब्रिगेडियर) सुरजीत सिंह पाब्ला जैसी गणमान्य हस्तियां भी इस अवसर पर मौजूद रहीं।
स्मार्ट इंडिया हैकथॉन दुनिया का सबसे बडा ओपन हैकथॉन है और लगातार तीसरे साल भारत में इसका आयोजन हो रहा है। 2235 कॉलेजों के 1.2 लाख से अधिक छात्रों ने 198 से अधिक प्रॉब्लम सॉल्विंग स्टेटमेंट के लिए अपनी प्रविष्टियां भेजीं, जो केंद्र सरकार के 9 मंत्रालयों के विभिन्न विभागों और 40 से अधिक उद्योगों द्वारा प्रस्तुत किए गए थे। आईआईटी और एनआईटी सहित 178 विभिन्न कॉलेजों की लगभग 250 टीमें इस कार्यक्रम में भाग ले रही हैं। आज से शुरू होने वाली सभी टीमें 12 जुलाई तक परिणाम घोषित होने तक लगातार काम करेंगी। जीतने वाले प्रोजेक्ट को सरकार से अनुदान मिलेगा। सभी टीमों में 6 प्रतिभागी और 2 शिक्षक शामिल हैं।
मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ने इस अवसर विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा, ’यह न्यू इंडिया में एक मील का पत्थर साबित होगा। इसमें बहुत से लोग भाग ले रहे हैं और अपने नवाचारों के माध्यम से न्यू इंडिया में अपना योगदान दे रहे हैं। यह प्रतियोगिता न केवल छात्रों को अपने नवाचारों को प्रदर्शित करने में मदद करेगी, बल्कि देश को इन प्रौद्योगिकियों का फायदा मिलेगा। नवाचार यानी इनोवेशन, देश का आदर्श वाक्य होना चाहिए। हमें देश को विकसित करने के लिए अधिक से अधिक आविष्कार और नवाचार करना चाहिए और देश को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करनी चाहिए।’
बीएसडीयू के कुलपति डॉ. (ब्रिगेडियर) सुरजीत सिंह पाब्ला ने कहा, ’हम स्मार्ट इंडिया हैकथॉन के ग्रैंड फिनाले की मेजबानी करते हुए बेहद प्रसन्न हैं। यह छात्रों को अपने विचारों को वास्तविकता में लाने का मौका दे रहा है। इसमें भाग लेने वाले युवा प्रतिभागी बहुत रचनात्मक हैं और वे स्मार्ट तकनीक, नए नवाचार और नई समस्याओं के नए समाधानों के साथ आकर हमारे और देश के भविष्य को बेहतर बनाने में मदद करेंगे। यह दौर तकनीक में बड़े बदलाव का है। ऐसे में हमें इस मेगा इवेंट के माध्यम से भविष्य के उद्यमियों, इनोवेटर्स के लिए एक आधार तैयार कर रहे हैं।‘
भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी एक कौशल विकास विश्वविद्यालय है, जो छात्रों को उचित प्रशिक्षण, गुणवत्ता का बुनियादी ढांचा और अच्छी तरह से डिजाइन कोर्सेज प्रदान करके उन्हें उपयुक्त माहौल देते हुए भारत में कौशल विकास उद्योग में उत्कृष्टता लाने की दिशा में काम कर रहा है ताकि छात्र अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने के लिए तैयार रहें। छात्रों को विशेषज्ञों से प्रशिक्षण मिलता है और मशीनरी के साथ ठीक से काम करने का अनुभव प्राप्त होता है। विश्वविद्यालय छात्रों को व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान करता है और प्रत्येक व्यक्ति को बेहतर प्रशिक्षण देने के लिए ’1 छात्र पर एक 1 मशीन’ के आदर्श वाक्य का अनुसरण करता है। बीएसडीयू विनिर्माण उद्योग के लिए छात्रों को प्रशिक्षण प्रदान करने की दिशा में काम करता है और उन्हें विनिर्माण क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करता है।
यह स्मार्ट इंडिया हैकथॉन का तीसरा संस्करण है और पिछले संस्करणों के विजेताओं के प्रोजेक्ट्स को मंत्रालयों ने गोद ले लिया है, जिन पर वर्तमान में काम चल रहा है। हैकथॉन में भाग ले रहे 178 इंस्टीट्यूट 19 विभिन्न क्षेत्रों के लिए 19 थीम पर काम कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad