इस बार रक्षा बंधन पर कल्याण ज्वैलर्स लाए हैं भाई-बहन के स्नेह में रची-बसी टॉप 5 खूबसूरत राखियां - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Saturday, August 10, 2019

इस बार रक्षा बंधन पर कल्याण ज्वैलर्स लाए हैं भाई-बहन के स्नेह में रची-बसी टॉप 5 खूबसूरत राखियां


Top 5 priceless jewellery picks for Raksha Bandhan of Kalyan jewellers

जयपुर।‘रक्षा‘ का अर्थ है सुरक्षा और बंधन का अर्थ है बंधन या बंधना। राखी के अवसर पर, भाइयों और बहनों के बीच फैली स्नेह की डोर की एक बार फिर पुष्टि की जाती है। इस बार रक्षा बंधन पर कल्याण ज्वैलर्स की गोल्ड प्लेटेड राखियों के साथ मनाएं भाई और बहन के स्नेह और प्यार में रचा-बसा यह त्यौहार!
भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधने के बदले मिलने वाली राखी बंधाई पर हालांकि बहनों का ही हक होता है, फिर भी क्या कभी आपने सोचा है कि आखिरकार आपके भाई को भी तो कुछ ऐसा ही बेशकीमती तोहफा आपकी तरफ से भी मिलना चाहिए? तो इस बार रक्षा बंधन के इस स्नेहभरे पर्व के अवसर पर कल्याण ज्वैलर्स द्वारा खास तौर पर निर्मित की गई गोल्ड प्लेटेड खूबसूरत और आकर्षक राखियों में से चुनिए अपने भाई के लिए एक शानदार राखी और इसे सजा दीजिए अपने भाई की कलाई पर!
यह मनमोहक और पारंपरिक गोल्ड प्लेटेड राखी आपके दिलकश और हैंडसम भाई के लिए एकदम परफेक्ट है।
अनमोल पुष्प जैसी डिजाइन इस पारंपरिक धागे की सच्ची सुंदरता को उजागर करती है और इसकी झिलमिलाती खूबसूरती सौंदर्य की एक नई शैली से आपका परिचय कराती है।
इस खूबसूरत सुनहरी राखी को तो आप अनदेखा कर ही नहीं पाएंगे.....इसका फ्लोरल डिजाइन ही इसकी सबसे बड़ी खूबी है जिसकी वजह से इसकी सादगी में भी एक अनूठा सम्मोहन नजर आता है।
स्वास्तिक को कल्याण, सौभाग्य और समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। खूबसूरती से गढ़ी गई राखी के साथ तैयार की गई स्वास्तिक की यह प्रतिकृति न केवल शक्ति और कौशल का प्रतीक है, बल्कि बेहद स्टाइलिश भी है।
इस तेजस्वी स्वास्तिक राखी के साथ अपने भाई की कामयाबी के लिए उसे शुभकामनाएं दें!
विश्वास और आध्यात्मिकता की एक सशक्त अभिव्यक्ति, ‘‘ओम‘‘ हिंदू धर्म में सबसे पवित्र शब्दांश, प्रतीक या मंत्र है।
इस ‘‘ओम‘‘ गोल्ड प्लेटेड राखी को एक धार्मिक लटकन के रूप में भी पहना जा सकता है।
इस बेहद आकर्षक राखी के केंद्र में एक पुष्प पैटर्न है और इसे लाल धागे के साथ मोतियों के जरिये सुशोभित किया गया है।




No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad