जेके टायर ने कनेक्टेड मोबिलिटी की दुनिया में प्रवेश किया - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, August 8, 2019

जेके टायर ने कनेक्टेड मोबिलिटी की दुनिया में प्रवेश किया


 JK TYRE FORAYS INTO THE WORLD OF CONNECTED MOBILITY

नई दिल्ली। भारत के टायर बाजार में क्रांति करते हुए रेडियल टेक्नोलॉजी के अग्रणी जेके टायर एंड इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने  ट्रील सेंसर्स के लॉन्च की घोषणा की है, जो अपने प्रकार का अनूठा प्रौद्योगिकी-आधारित टूल है और टायरों की स्मार्ट निगरानी और रख-रखाव करेगा। यह पेशकश भारतीय बाजार में उच्च प्रदर्शन वाले ट्रक/बस और पैसेंजर कार रेडियल्स के लिये जेके टायर की स्थिति को मजबूत करती है।
वाणिज्यिक और यात्री वाहन स्वामियों को परिवहन के उन्नत समाधान प्रदान करने के लिये यह उद्योग में प्रथम पहल है और ट्रील सेंसर्स की प्रस्तुति जेके टायर द्वारा हाल में एक स्टार्ट-अप उपक्रम ट्रील मोबिलिटी सॉल्यूशंस प्रा. लि. में किये गये वित्तीय अधिग्रहण का परिणाम है। यह भारतीय टायर उद्योग में नवोन्मेष करने और देश की स्टार्टअप पारिस्थितिकी को पोषित करने के लिये जेके टायर की प्रतिबद्धता का प्रमाण भी है।
इस लॉन्च के अवसर पर जेके टायर एंड इंडस्ट्रीज के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक डॉ. रघुपति सिंघानिया ने कहा, ‘‘भारत में रेडियल्स का अग्रणी होने के नाते हमने वाणिज्यिक और यात्री वाहन स्वामियों को परिवहन समाधान प्रदान करने की अपनी पहल के विस्तार के तौर पर एक आर फिर ‘स्मार्ट टायर’ प्रस्तुत किया है। ट्रील सेंसर्स की प्रस्तुति भारत के बाजारों में स्मार्ट टायर बनाने की दिशा में पहला हाई-टेक कदम है। यह वाहन स्वामियों के महत्व में वृद्धि करता है, विशेषकर फ्लीट्स के लिये, क्योंकि इससे परिचालन की लागत कम होती है। ‘मेक इन इंडिया’ के लिये हमारी प्रतिबद्धता को रेखांकित करने वाले ट्रील सेंसर्स का डिजाइन, विकास और उत्पादन पुणे में किया गया है और देशव्यापी पायलट के हिस्से के तौर पर वे फ्लीट स्वामियों द्वारा उपयोग में लाये जा रहे हैं।’’
ऑप्टिमल टायर प्रेशर को बनाये रखने से पर्यावरण की सुरक्षा होती है और सड़क पर भी अधिक सुरक्षा मिलती है, जिसके लिये जेके टायर हमेशा से जागरूक रहा है। इसके लिये कंपनी ने ट्रील सेंसर्स की पेशकश द्वारा टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम्स (टीपीएमएस) प्रस्तुत किये हैं, जो टायर के दाब और ताप की निगरानी करते हैं। इस स्मार्ट मॉनिटरिंग सिस्टम की जानकारी को रियल-टाइम आधार पर वाहन स्वामी के स्मार्टफोन में ब्लूटूथ द्वारा मोबाइल ऐप्लीकेशन पर प्रेषित किया जाता है, ताकि समस्याओं का जल्दी पता चल सके और उनसे बचने के लिये सही समय पर सही उपाय किये जा सकें। टीपीएमएस की सहायता से ट्रील सेंसर्स ईंधन की बचत में भी मदद करते हैं। इसके अलावा, यह प्रौद्योगिकी टायर का जीवन बढ़ाती है और परिचालन के खर्च को कम करती है।
बदलाव लाने वाली यह प्रौद्योगिकी टायर को इंटेलिजेंट और संवादपरक बनाने की दिशा में कंपनी का बड़ा कदम है, ताकि भारत के डिजिटल प्रिय वाहन स्वामियों की जरूरतों के के लिये उपयुक्त परिवहन प्रदान किया जा सके। ऑटो का भविष्य प्रौद्योगिकी पर आधारित होगा और जेके टायर ड्राइवर, वाहन और टायरों को स्मार्ट तरीके से जोड़ने का प्रयास कर रहा है।
ट्रील सेंसर्स अब भारत में 700 से अधिक डीलरशिप्स पर वाणिज्यिक रूप से उपलब्ध हैं। जेके टायर ग्राहकों को एक विशेष ई-कॉमर्स सेल्स चैनल के जरिये प्रौद्योगिकी समाधान ऑनलाइन बेचने की योजना भी बना रहा है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad