अशोक लेलैंड बनी हेवी ड्यूटी ट्रक्स की सम्पूर्ण श्रेणी के लिए बीएस-6 सर्टिफिकेशन पाने वाली पहली भारतीय सीवी उत्पादक कंपनी - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Friday, September 6, 2019

अशोक लेलैंड बनी हेवी ड्यूटी ट्रक्स की सम्पूर्ण श्रेणी के लिए बीएस-6 सर्टिफिकेशन पाने वाली पहली भारतीय सीवी उत्पादक कंपनी





Ashok Leyland becomes the first Indian CV maker to get BS-VI certification for its Full Range of Heavy Duty Trucks.


चेन्नई: हिंदुजा ग्रुप की प्रमुख कंपनी और भारत की सबसे बड़ी व्यावसायिक वाहनों की उत्पादक कंपनियों में से एक अशोक लेलैंड हेवी ड्यूटी ट्रक्स (16.2टी और उससे अधिक जीवीडब्ल्यू) की पूरी श्रेणी में बीएस-6 एमिशन नियमों का पालन करनेवाली पहली भारतीय ओईएम बनी है। 29 अगस्त २०१९ को अशोक लेलैंड के चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर डॉ. एन. सरवनन को ऑटोमोटिव रिसर्च असोसिएशन ऑफ़ इंडिया (एआरएआई) से बीएस-6 एमिशन स्टैण्डर्ड का पालन किए जाने के सर्टिफिकेट्स दिए गए।  एआरएआई यह देश का अग्रणी ऑटोमोटिव अनुसन्धान एवं विकास संस्थान है जिसका गठन भारत सरकार के ऑटोमोटिव इंडस्ट्री द्वारा किया गया है।  यह भारत सरकार के भारी उद्योग और सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय से सम्बद्ध स्वायत्त संस्थान है जो सभी प्रकार के वाहनों के लिए व्यापक सर्टिफिकेशन और होमलोगेशन सेवाएं प्रदान करता है।
इस सफलता पर अशोक लेलैंड के चेयरमैन धीरज हिंदुजा ने बताया, "व्यावसायिक वाहनों के उद्यम में नई प्रौद्योगिकी लाने में अशोक लेलैंड हमेशा अग्रणी रही है।  भारी वाहनों की श्रेणी में बीएस-6 एमिशन स्टैण्डर्ड का पालन करना 'टेक्नोलॉजी लीडर' के रूप में हमारे स्थान को और अधिक मजबूत बनाता है।  बीएस-4 से बीएस-6 तक पहुँच पाने के लिए काफी कम समय होने के बजाय हमने कई सारे सुविस्तृत परिक्षण किए और 7 महीने पहले ही यह सफलता हासिल की।  हमें पूरा विश्वास है कि कंपनी के इस विकास से हमारे ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने में सबसे अच्छे और प्रतिस्पर्धात्मक समाधान हम मुहैय्या कर पाएंगे।  बाजार की जरूरतों को पूरा करने के लिए अनुकूल और कस्टमाइज्ड दृष्टिकोण के साथ अनुसन्धान और विकास करते रहने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं।" 
एलसीवी और आईसीवी श्रेणी में भी स्टैंडर्ड्स की पूर्तता को जल्द ही पूरा किया जाएगा और हम 70 एचपी से 360 एचपी तक की व्यापक श्रेणी बीएस-6 एप्लीकेशन में मुहैया करेंगे।“ 
अशोक लेलैंड के चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर डॉ. एन. सरवनन ने बताया, "दिल्ली में ऑटो एक्स्पो 2016 में यूरो-6 ट्रक पेश करने वाली पहली भारतीय ओईएम हमारी कंपनी थी और अंतिम तारीख के काफी पहले हमारी पूरी भारी ट्रकों की श्रेणी में बीएस-6 स्टैंडर्ड्स की पूर्ति करने वाली पहली कंपनी भी हम ही है।  प्रौद्योगिकी और समझदारी से उसका इस्तेमाल करना हमारी विशेषता है।  बीएस-3 के लिए  मेकैनिकल पम्प का इस्तेमाल हो या बीएस-4 के लिए आइईजीआर प्रौद्योगिकी हो, हमारे ग्राहकों को उत्पाद के पुरे कार्यकाल में सर्वोत्तम मूल्य मिलता रहे इसलिए प्रौद्योगिकी को सरल और उपयुक्त बनाने के लिए ही हम लगातार प्रयास करते हैं।  हमारी बीएस-6 श्रेणी के साथ हम विश्वास और सरल सञ्चालन के वादे को पूरा कर रहे हैं।  साथ ही हमने इस श्रेणी के लिए सम्पूर्णतः नया मॉडुलर वेहिकल प्लेटफार्म भी बनाया है और हमें पूरा विश्वास है कि ग्राहकों को बढ़ती हुई, बदलती हुई जरूरतों को हम पूरा करेंगे।  लोडिंग स्पेंस, कॅबिन्स, सस्पेंशन्स और ड्राइवट्रेन्स के कई विकल्प हम दे पाएंगे।  कस्टम बिल्ट प्रोडक्ट कॉन्फ़िगरेटर के जरिए इन कॉम्बिनेशन्स को दिया जाएगा। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad