द हीरो कैम्‍पस चैलेंज ने भविष्‍य के बिजनेस लीडर्स को पोषित करने के लिये की वापसी - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Friday, October 18, 2019

द हीरो कैम्‍पस चैलेंज ने भविष्‍य के बिजनेस लीडर्स को पोषित करने के लिये की वापसी

Heromotocorp


नई दिल्‍ली, अक्‍टूबर 2019 - दुनिया की सबसे बड़ी दो-पहिया निर्माता हीरो मोटोकॉर्प ने मशहूर द हीरो कैम्‍पस चैलेंज के पांचवें संस्‍करण की घोषणा की है। इस साल के संस्‍करण के लिये पंजीकरण की प्रक्रिया अब खुल गई है और इसे पहले से ही 5000 से अधिक प्रविष्टियां प्राप्‍त हो चुकी हैं। पंजीकरण 9 नवंबर 2019 को बंद होगा।

भारत का एक सर्वाधिक खोजपरक मंच, जो देश के युवाओं की रचनात्‍मकता और व्‍यावसाय कौशल को चैनलीकृत करता है, द हीरो कैम्‍पस चैलेंज द्वारा असली जिंदगी के वैश्विक उद्योग परिदृश्‍यों की एक सीरीज के साथ प्रतिभागियों को चुनौती दी जाती है और स्‍टूडेंट्स को मुद्दों के लिये खोजपरक एवं व्‍यावहारिक समाधानों को प्रदान करने की जरूरत होती है। विजेता टीम को हीरो मोटोकॉर्प में काम करने का मौका मिलता है, जो उन्‍हें वैश्विक संगठन में काम करने का व्‍यावहारिक अनुभव उपलब्‍ध कराता है।

द हीरो कैम्‍पस चैलेंज में पिछले चार सालों में 40,000 से अधिक बिजनेस एवं इंजीनियरिंग स्‍टूडेंट्स की भागीदारी देखी गई है।

इस अवसर पर प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुये विजय सेठी, हेड- कॉर्पोरेट सोशल रिस्‍पॉन्सिबिलटी, चीफ इंफॉर्मेशन ऑफिसर एवं चीफ ह्यूमन रिसोर्सेज ऑफिसर, हीरो मोटोकॉर्प ने कहा, ''हीरो मोटोकॉर्प में, हमारा निरंतर यह प्रयास रहता है कि हम अपने कर्मचारियों को न सिर्फ एक भागीदारीपूर्ण एवं समृद्ध पेशेवर इकोसिस्‍टम उपलब्‍ध करा पायें, बल्कि भारत के भावी बिजनेस लीडर्स को पोषित करने की दिशा में भी काम कर पायें। द हीरो कैम्‍पस चैलेंज इसी दिशा में एक प्रमुख पहल है, जो एक प्रतिष्ठित मंच बनकर उभरा है। संभ्रांत शिक्षण संस्‍थानों से देश के होनहार लोगों की बढ़ती भागीदारी इसके प्रभाव से परिलक्षित होती है, जो आज के मिलेनियल्‍स के पेशेवर सफर पर निर्मित हो रहा है। हमें पूरा भरोसा है कि इस साल का संस्‍करण सभी विद्यार्थियों के लिये चुनौतीपूर्ण एवं समृद्धशाली भी होगा। मैं उन सभी को शुभकामनायें देता हूं।''

द हीरो कैम्‍पस चैलेंज में सभी आइआइटी, एनआइटी और इंजीनियरिंग कॉलेजों में ग्रेजुएशन एवं पोस्‍ट-ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहे स्‍टूडेंट्स भाग ले सकते हैं। दो-वर्षीय एमबीए/पीजीडीएम प्रोग्राम्‍स के पहले एवं फाइनल-ईयर के स्‍टूडटेंट्स भागीदारी के लिये अपनी प्रविष्टियां भी सबमिट कर सकते हैं।

इस साल के एडिशन का पहला राउंड एक ऑनलाइन असेसमेंट होगा, जिसका आयोजन 10 नवंबर 2019 को किया जायेगा। दूसरे राउंड के लिये चुनी गई टीमों को उनके आइडिया एलिवेटर वीडियो पिच को 7 नवंबर 2019 तक सबमिट करना होगा। राउंड 3 में आने वाले स्‍टूडेंट्स को उनकी प्रविष्टियां 15 दिसंबर 2019 तक सबमिट कराना होगा, जिनके आधार पर उन्‍हें फाइनल राउंड के लिये चुना जायेगा।

सीजन 4 की विजेता टीमों को प्रतिष्ठित द हीरो कैम्‍पस चैलेंज विनर ट्रॉफी और दो लाख रूपये की एक पुरस्‍कार राशि प्राप्‍त हुई थी और रनर-अप टीमों को एक लाख रूपये की पुरस्‍कार राशि एवं साथ ही एक ट्रॉफी भी मिली थी। इसके अतिरिक्‍त उन्‍हें हीरो मोटोकॉर्प में प्री-प्‍लेसमेंट इंटरव्‍यूज में भाग लेने का भी मौका मिला।

द हीरो कैम्‍पस चैलेंज को 2015 में लॉन्‍च किया गया था। यह एक कैम्‍पस-केन्द्रित, बिजनेस सॉल्‍यूशन्‍स ओरिएंटेड प्रतियोगिता है, जिसका संचालन देश के प्रमुख मैनेजमेंट एवं इंजीनियरिंग स्‍कूलों में किया जाता है। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad