ओयो इण्डिया ने पेश किया पार्टनर अडवाइज़री काउन्सिल का रीजनल चैप्टर - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, October 23, 2019

ओयो इण्डिया ने पेश किया पार्टनर अडवाइज़री काउन्सिल का रीजनल चैप्टर


 OYO Hotels and Homes introduces regional chapters of Partner Advisory Councils, strengthens the commitment to OPEN (OYO Partner Engagement Network)


नई दिल्ली,  भारत और दक्षिणी एशिया में होटल्स, होम्स एवं स्पेसेज़ की सबसे बड़ी चेन ओयो होटल्स एण्ड होम्स ने ओयो पार्टनर एंगेजमेन्ट नेटवर्क ;व्च्म्छद्ध के तहत हैदराबाद, चण्डीगढ़, कोलकाता ओर पुणे में पार्टनर अडवाइज़री काउन्सिल बैठकों के पहले चरण का आयोजन किया। ओयो पार्टनर एंगेजमेन्ट नेटवर्क ;व्च्म्छद्ध देश के 500 से अधिक शहरों में 18,000 से अधिक प्रॉपर्टी मालिकों को सहयोग एवं समर्थन प्रदान करने के लिए ओयो की वर्तमान में जारी एकवर्षीय प्रतिबद्धता है। क्षेत्रीय पार्टनर अडवाइज़री काउन्सिल बैठकों का आयोजन देश केे उत्तरी, पूर्वी, दक्षिणी ओर पश्चिमी क्षेत्रों में प्रतिक्रिया प्रणाली को सशक्त बनाने के लिए किया गया है, जो ऐसे सुझाव एवं दृष्टिकोण पेश करेगी, जो  राष्ट्रीय पार्टनर अडवाइज़री काउन्सिल की अगली बैठकों के लिए महत्वपूर्ण होंगे।

ओयो पार्टनर एंगेजमेन्ट नेटवर्क  के तहत जुलाई 2019 में स्थापित पहली पार्टनर अडवाइज़री काउन्सिल ने ओयो इण्डिया के मालिकों, ओयो इण्डिया साउथ एशिया के प्रतिनिधियों, थर्ड पार्टी पॉलिसी एवं कानूनी प्रतिनिधियों को ऐसा मंच उपलब्ध कराया जहां उन्हें देश के ओयो होटल नेटवर्क के हितों पर चर्चा करने तथा भारत के भावी हॉस्पिटेलिटी उद्योग से जुड़े छोटे-बड़े मुद्दों पर विचार-विमर्श करने का मौका मिला। नेशनल काउन्सिल के प्रमुख थर्ड पार्टी सदस्यों में शामिल थे-  विनोद जुत्शी, आईएएस, पूर्व सचिव, पर्यटन मंत्रालय,  वी के दुग्गल, आईएएस, पूर्व गृह सचिव और मणिपुर और मिज़ोरम के पूर्व गवर्नर,  एन एस वासन, आईपीएस, पूर्व महानिदेशक, ब्यूरो ऑफ पुलिस रीसर्च एण्ड डेवलपमेन्ट, मिस किरण प्रभाकर, पार्टनर एवं फाउन्डर, पीएवी लॉ ऑफिस। नेशनल काउन्सिल की पहली बैठक में दिए गए सुझावों के मद्देनज़र रीजनल चैप्टर का आयोजन किया गया।



व्च्म्छ के मुख्य स्तंभों नामतः बिज़नेस, विकास, एंगेजमेन्ट एवं रिकॉग्निशन तथा इनमें से हर स्तंभ के लिए ओयो की विभिन्न पहलों पर रोशनी डालते हुए आदित्य घोष, सीईओ, इण्डिया एण्ड साउथ एशिया ने कहा‘‘
ओयो इण्डिया के पार्टनर अडवाइज़री काउन्सिल की रीजनल चैप्टर बैठकों में दिए गए सुझावों और चर्चा के दौरान कई मुख्य पहलुओं पर ज़ोर दिया गया। सुधार के मुख्य क्षेत्रों को पहचानने तथा विभिन्न गतिविधियों के लिए सशक्त योजना बनाने जैसे समर्पित होटल प्रबंधन संसाधनों का प्रावधान, मिड-मार्केट ब्राण्ड्स के लिए ब्राण्ड जागरुकता में सुधार और गुणवत्ता जांच में निवेश आदि के द्वारा पहले से बहुत अधिक प्रगति की जा चुकी है। हम नवम्बर में आयोजित अगली नेशनल पीएसी बैठक में अपडेट्स साझा करेंगे और सुधार के मुख्य क्षेत्रों पर रोशनी डालेंगे।’’

उल्लेखनीय है कि ओयो होटल्स एण्ड होम्स काउन्सिल के तत्वावधान में विभिन्न शहरों में कई पुरस्कार एवं प्रोत्साहन कार्यक्रमों का आयोजन कर चुकी है, जहां ओयो के होटल मालिकों ने हर शहर में कस्टमर सर्विस के क्षेत्र में उत्कृष्टता का प्रदर्शन किया है। पहले चरण में इन प्रमुख शहरों में दिल्ली, पुणे, मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद और चण्डीगढ़ शामिल हैं। ओयो ने देश भर में कैपेक्स में भारी निवेश किया है और हॉस्पिटेलिटी पेशेवरों को 100,000 से अधिक रोज़गार के अवसर उपलब्ध कराए हैं। ऐसा करने में ओयो ने खासतौर पर तीसरे, चौथे और पांचवें स्तर के शहरों में पर्यटन की क्षमताओं का सही उपयोग किया है।







No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad