येस बैंक के येस स्केल ने एमएसएमई एसोसिएशंस के लिए येस स्केल बिजकनेक्ट लॉन्च किया - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, October 10, 2019

येस बैंक के येस स्केल ने एमएसएमई एसोसिएशंस के लिए येस स्केल बिजकनेक्ट लॉन्च किया


   
To provide digital transformation support to MSMEs - YES Bank launches YES SCALE Bizconnect




मुंबई। येस बैंक के इनोवेशन प्रोग्राम, येस स्केल ने येस स्केल बिजकनेक्ट लॉन्च किया है। येस स्केल बिजकनेक्ट किसी बैंक द्वारा लाया गया अपने तरह का अनूठा ऐप्प है, जिसे क्यूरेटेड तकनीक एवं बैंकिंग समाधानों के जरिए एमएसएमई एसोसिएशंस के परिचालनों को डिजिटल रूप प्रदान करना है।
बिजकनेक्ट, इंडस्ट्री की सर्वप्रथम पहल है। यह एमएसएमई एसोसिएशंस के लिए एक व्यापक समाधान है। इसकी मदद से एमएसएमई एसोसिएशंस अपने समूचे सदस्य आधार को जोड़ सकते हैं और उसका प्रबंधन कर सकते हैं, जानकारी एवं इंडस्ट्री से जुड़ी विशेष बातें साझा कर सकते हैं, तथा इसके विशेष प्रकार से डिजाइन किये गये ई-मार्केटप्लेस के जरिए सदस्यगण एक-दूसरे के बीच ट्रेडिंग व ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। यह ऐप्प निर्बाध रूप से सदस्य शुल्क संग्रह से लेकर स्पॉन्सरशिप्स, इवेंट एवं संगोष्ठी की बुकिंग्स पूरी तरह से प्लेटफॉर्म पर एसोसिएशन के सभी बैंकिंग ट्रांजेक्शंस को सही तरह से करता है। यह ऐप्प वर्चुअल नॉलेज प्लेटफॉर्म का भी काम करेगा, जिस पर व्यक्तिगत सदस्यों की रूचियों के आधार पर तैयार की गई इंडस्ट्री की विशिष्ट रिपोर्ट्स, आलेख एवं विशेषज्ञों के साक्षात्कार उपलब्ध होंगे।
एमएसएमई के लिए सक्षम वातावरण तैयार करने के प्रति येस बैंक की वचनबद्धता के अनुरूप, बिजकनेक्ट निम्नलिखित प्रदान करता है-
प्लग ऐंड प्ले प्लेटफॉर्म समाधान, जिसकी मदद से एसोसिएशंस सदस्यों के बीच बेहतर संपर्क कायम कर सकते हैं, प्रशासनिक जटिलताएं सरल हो सकती है, आसानीपूर्वक जानकारी साझा की जा सकती है, तथा यह सदस्यों के लिए उनके व्यवसाय हेतु एक बाजार-स्थल के रूप में भी काम करता है
सदस्यगण अपने उत्पादों एवं सेवाओं को सूचीबद्ध कर सकते हैं और साथ ही, खरीद/बिक्री/ऑर्डर एवं इनक्वायरी कर सकते हैं जिससे सदस्यों का व्यापार एवं एसोसिएशंस का संपर्क बढ़ेगा। येस बैंक का डिजिटल सुट इस बाजार-स्थल पर खरीदने, बाद में भुगतान करने एवं संग्रह की सुविधा भी प्रदान करता है
सभी वित्तीय ट्रांजेक्शंस को पूर्ण रूप से डिजिटल बनाता है - सदस्य शुल्क, इवेंट बुकिंग्स, हॉल बुकिंग - भुगतान, कलेक्शन एवं समन्वय
एसोसिएशन के सदस्य एमएसएमई मात्र एक क्लिक के जरिए कोई भी बैंकिंग उत्पाद हासिल कर सकते हैं

लॉन्च पर टिप्पणी करते हुए, राजन पटेल, सीनियग ग्रुप प्रेसिडेंट एवं हेड - ब्रांच एवं रिटेल बैंकिंग ने कहा, ‘‘येस बैंक श्रृंखलाबद्ध डिजिटल नवाचारों जैसे-इंस्टेंट ओडी उपलब्धता एवं जीएसटी-आधारित ऋण के जरिए तकनीक को अपनाने पर जोर दे रहे हैं। येस स्केल बिजकनेक्ट और येस स्केल बिजनेस सॉल्यूशंस के जरिए, बैंक अब अपने ‘नॉलेज बैंकिंग’ को अपने प्रमुख एसएमएमई पार्टनर्स के लिए विशेष प्रकार से तैयार किये गये बैंकिंग एवं तकनीकी समाधानों के जरिए परिचालनों को डिजिटल करने पर अपना ध्यान दे रहा है।’’

बैंक ने येस स्केल बिजनेस सॉल्यूशंस भी विकसित किया है, जो कि शिक्षा, लॉजिस्टिक्स एवं आपूर्ति श्रृंखला, हेल्थटेक एवं क्लब्स व जिमखानों के लिए बीस्कोप सेक्टर सॉल्यूशनिंग मॉडल है। विभिन्न क्षेत्रों की 30 से अधिक संस्थाओं ने पहले ही इस समाधान को अपना लिया है।


एडिटेक - येस स्केल कैंपस कनेक्ट
विशेष प्रकार से तैयार किये गये इस प्लेटफॉर्म के जरिए विश्वविद्यालय, विद्यालय एवं महाविद्यालय विभिन्न स्कूलों में एडमिनिस्ट्रेशन में सहयोग प्रदान कर सकते हैं, छात्रों, अभिभावकों के साथ शानदार संपर्क कायम हो सकता है और कर्मचारियों का बेहतर प्रबंधन हो सकता है, साथ ही वो अपनी संपूर्ण वित्तीय आपूर्ति श्रृंखला को डिजिटल बना सकते हैं
बर्ड्स आई, स्कूल एवं पैरेंट इंटरफेसेज नामक तीन इंटरफेस उपलब्ध कराता है।
बर्ड्स आई एआई-आधारित डैशबोर्ड को न्यासियों एवं व्यवस्थापकों के लिए डिजाइन किया गया है, जिससे वो वित्त, प्रशासन एवं विभिन्न स्कूलों एवं विभागों की प्रगति पर नजर रख सकते हैं।
स्कूल इंटरफेस की मदद से कॉलेज/स्कूल के प्रदर्शन को जाना जा सकता है, इससे ओवरहेड खर्च घट जाता है $ एआई-आधारित परामर्शों से केपीआई को प्रबंधित किया जा सकता है
इनवॉयस एवं रसीद तैयार करने की खूबियां $ ऑफलाइन भुगतान एकीकरण के साथ डिजिटल तरीके से शुल्क भुगतान
भुगतान हेतु स्वतः रिमाइंडर भेजता है और संग्रह चक्र घट जाता है
सुलह की जटिलताओं को कम करने के लिए छात्रवार बकाया शुल्क/भुगतान
पैरेंट इंटरफेस की मदद से अभिभावक अपने बच्चों की प्रगति पर नजर रख सकते हैं और शुल्क, अतिरिक्त कक्षा, ट्रांसपोर्ट के लिए डिजिटल भुगतान की सुविधा प्रदान करता है - जिससे नकद भुगतान करने की झंझट नहीं होती

लॉजिस्टिक्स एवं आपूर्ति श्रृंखला
लॉजिस्टिक्स प्लेटफॉर्म ‘प्राइसिंग एवं फ्लीट पारदर्शिता’, ‘रूट, डिलिवरी एवं फ्लीट मैनेजमेंट’ और ‘इंटेलिजेंट वेयरहाउस मैनेजमेंट’ पर केंद्रित है। इस प्रोडक्ट सुट को पांच स्टार्टअप्स के साथ मिलकर एआई व आईओटी का उपयोग कर तैयार किया गया है
इसके जरिए, कारोबारी, प्रवर्तक एवं उद्यमी अपने वाहनों को ऑप्टिमाइज कर सकते हैं, रूटिंग, ड्राइवर प्रबंधन कर सकते हैं और अपने वेयरहाउस का संपूर्ण डिजिटलीकरण कर सकते हैं।
इसके अलावा, इनवॉयस प्रबंधन, भुगतान, संग्रह जैसे सभी ट्रांजेक्शंस इस प्लेटफॉर्म पर प्रबंधित किये जा सकते हैं

हेल्थटेक
येस स्केल ने अस्पतालों, पैथोलॉजी लैब्स, डायग्नोस्टिक सेंटर्स एवं डॉक्टर्स की आवश्यकताएं पूरी करने हेतु तकनीकी समाधान स्टार्टअप्स से सहयोग किया है।
मरीज का संपूर्ण प्रबंधन, जैसे-रिमोट पैशेंट मॉनिटरिंग, डिजिटल एवं सुरक्षित रिपोर्ट्स, रोगी जागरूकता एवं क्यू मैनेजमेंट को हेल्थटेक प्लेटफॉर्म के जरिए प्रबंधित किया जाता है।
इसके अलावा, डॉक्टर्स एवं कर्मचारी के प्रबंधन, इन्वेंट्री मैनेजमेंट, सैंपल ट्रैकिंग, विभाग एवं वार्ड प्रबंधन की क्षमताएं।
डिजिटल भुगतान, संग्रह, मरीजों, आपूर्तिकर्ताओं, वेंडर्स, डॉक्टर्स से इनवॉयसिंग के साथ अलर्ट एवं सुझाव, ताकि वित्त चक्र का प्रबंधन हो सके।

क्लब्स और जिमखाना
येस स्केल क्लबकनेक्ट, स्मार्ट क्लब एवं जिमखाना मैनेजमेंट सॉल्यूशन, जो निम्नलिखित के लिए 2 विशिष्ट इंटरफेस उपलब्ध कराता है

निम्नलिखित के लिए क्लब एडमिनिस्ट्रेशन
सिंगल प्लेटफॉर्म पर विभिन्न सुविधाओं एवं सदस्यों सिहत क्लब एवं जिमखाना को प्रबंधित करने हेतु
सुविधाओं एवं सदस्य प्रबंधन हेतु एआई-आधारित अलर्ट्स एवं सुझावों के उपयोग हेतु
सभी भुगतानों/कलेक्शन एवं सुलह हेतु डिजिटल करना एवं ट्रैक करना
रेस्तरां/बार/कोर्ट्स/हॉल्स/इवेंट्स आदि सभी सुविधाओं के लिए स्वचालित भुगतान एवं डिजिटल बुकिंग के लिए मेंबर्स (मेंबर ऐप्प)

येस बैंक का येस स्केल प्लेटफॉर्म आपूर्ति श्रृंखला एवं लॉजिस्टिक्स, क्लीन एवं अर्बन टेक, एग्रीटेक, लाइफसाइंसेज एवं हेल्थ टेक व एडटेक जैसे विकासोन्मुखी क्षेत्रों पर केंद्रित आशाजनक स्टार्टअप्स के विकास को सक्षम बनाने के लिए शुरू हुआ। यह प्लेटफॉर्म अब इनोवेशन एवं सॉल्यूशनिंग प्लेटफॉर्म के रूप में विकसित हो चुका है, ताकि स्टार्टअप्स के साथ मिलकर ऐसे समाधानों का निर्माण किया जा सके जिससे एमएसएमई बिजनेस ओनर्स, प्रोमोटर्स एवं उद्यमियों को मदद मिले।



No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad