महिंद्रा एडवेंचर का पांचवां ‘क्लब चैलेंज’ सफलतापूर्वक पूरा - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Tuesday, February 25, 2020

महिंद्रा एडवेंचर का पांचवां ‘क्लब चैलेंज’ सफलतापूर्वक पूरा



Mahindra Adventure successfully concludes Fifth edition of 'Club Challenge'

बेंगलुरू। महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड (एमऐंडएम) का पांचवां महिंद्रा एडवेंचर ‘क्लब चैलेंज’ सफलतापूर्वक पूरा हो गया। इस चैलेंज में देश भर के शीर्ष 15 ऑफ-रोडिंग क्लब्स के बीच ऑफरोडिंग सम्मानों के लिए मुकाबला हुआ।
दो दिनों तक और सात बाधाओं से जूझने की इस कठोर प्रतियोगिता में, केरल के ऑफ-रोडिंग क्लब ‘वायनाड जीपर्स’ संपूर्ण रूप से विजेता रहा, जिन्होंने 5 लाख रु. की पुरस्कार राशि जीती। पहला उपविजेता ‘बेंगलुरू ऑफ-रोडर ड्राइवर्स एसोसिएशन’ (बोडा) ने 3 लाख रु. पुरस्कार राशि जीती, जबकि ‘आरएंडटी ऑफ-रोड क्लब’ दूसरा उप-विजेता रहा और इसने 2 लाख रु. की पुरस्कार राशि जीती।
इस वर्ष के चैलेंज में भाग लेने वाले अन्य क्लब्स में टीम ग्ग्च्म्छक्।ठस्मर्् क्लब 4’4, डी.ओ.टी., ईस्ट जैनिटा एडवेंचर मोटरस्पोर्ट, मोटर स्पोर्ट्स क्लब ऑफ मेघालय, पंजाब ऑफरोडर्स क्लब, केरल एडवेंचर स्पोर्ट्स क्लब, वर्ज रेसिंग, एक्सट्रीम ऑफरोडर्स, 4’4 ज्ञत्व्ब्ए नॉर्दर्न इंडिया ऑफरोड क्लब, केटीएम जीपर्स एवं फ्लाईव्हील शामिल रहे।
‘क्लब चैलेंज’ में भारत के सर्वश्रेष्ठ ऑफ-रोडिंग क्लब्स के प्रतिभागियों के बीच भारत में ‘बेस्ट ऑफ-रोडिंग क्लब’ के सम्मानित खिताब के लिए मुकाबला हुआ। सभी बाधाएं व्यक्तिगत प्रदर्शन के बजाये टीमवर्क पर केंद्रित रहीं। क्लब चैलेंज 22 फरवरी, 2020 को रोमांचक नाइट स्टेजेज के साथ शुरू हुआ। अगले दिन 23 फरवरी, 2020 को डे स्टेजेज हुए और यह बेंगलुरू में शानदार सम्मान समारोह के साथ संपन्न हुआ।
इस वर्ष के चैलेंज के रूप में महत्वपूर्ण रूप से ‘डेमोलिशन डर्बी’ बाधा जारी रही, जहां ऑफ-रोड गाड़ियों ने टूटी-फूटी गाड़ियों के बीच से अपना रास्ता बनाया। दूसरी शक्तिशाली बाधा ‘पास द बेटन’ में सभी क्लास की गाड़ियों ने रिले फॉर्मट में ड्राइविंग की और बाधाएं पार करते हुए एक गाड़ी से दूसरी गाड़ी को बेटन पकड़ाया और फिर फिनिश लाइन को पूरा किया। इस वर्ष स्ट्रैप्स ऑफ गॉड, ड्रैग रेस व टग ऑफ वार जैसी कुछ नई बाधाएं शामिल की गईं।





No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad