लॉ स्कूल एडमिशन काउंसिल ने की एलएसएटी- इंडिया टेस्ट देने वालों के लिए दो छात्रवृत्तियों की घोषणा - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, March 26, 2020

लॉ स्कूल एडमिशन काउंसिल ने की एलएसएटी- इंडिया टेस्ट देने वालों के लिए दो छात्रवृत्तियों की घोषणा

LSAC Announces Two Scholarships for LSAT-IndiaT Test Takers



नई दिल्ली,  दुनियाभर में कानून और शिक्षा में गुणवत्ता, पहुंच और समानता को बढ़ावा देने के लिए समर्पित गैर लाभकारी अमेरिकी संगठन लॉ स्कूल एडमिशन काउंसिल (एलएसएसी®) ने  एलएसएटी- इंडिया टेस्ट देने वालों के लिए दो छात्रवृत्तियों की घोषणा का एलान किया। इन छात्रवृत्तियों के जरिये एलएसएटी के इच्छुक वकीलों को भारत के कुछ सर्वश्रेष्ठ लॉ स्कूलों में अध्ययन करने का अवसर मिलेगा।
एलएसएटी- इंडिया टॉपर स्कॉलरशिप लगातार दूसरे वर्ष प्रदान की जा रही है। इसमें 2020 एलएएसटी इंडिया स्कॉलर को अधिकतम 4 लाख रुपए प्रदान किए जाएंगे। यह राशि ऐसे परीक्षार्थी को दी जाएगी जा आगामी 17 मई, 2020 को टेस्ट एडमिनिस्ट्रेशन में एलएएसटी-इंडिया में उच्चतम रिपोर्ट स्कोर प्राप्त करेगा।

इसके अलावा, एलएसएसी एक नई छात्रवृत्ति, शमनाद बशीर एक्सेस टू जस्टिस स्कॉलरशिप भी पेश कर रही है, जो कि एक निबंध प्रतियोगिता के परिणामों पर आधारित होगी। अधिकतम 4 लाख रुपये का पुरस्कार 2020 के एलएसएटी- इंडिया के ऐसे परीक्षार्थी को दिया जाएगा, जिसे निबंध स्पर्धा का विजेता घोषित किया जाएगा। आवेदन प्रक्रिया और समयसीमा के बारे में विवरण शीघ्र ही discoverlaw.in वेबसाइट पर उपलब्ध होगा। प्रविष्टियों के लिए सबमिशन की समय सीमा शुक्रवार, 8 मई, 2020 है।

एलएसएसी बोर्ड ऑफ ट्रस्टी के चेयरमैन केविन वाशबर्न ने कहा, ‘‘विविधता हमेशा लॉ स्कूल एडमिशन काउंसिल के मिशन के लिए केंद्र में रही है, और मुझे शमनाद बशीर एक्सेस टू जस्टिस स्कॉलरशिप की शुरुआत करने का एलान करते हुए खुशी का अनुभव हो रहा है। यह स्कॉलरशिप भारत के सामाजिक आर्थिक समूहों के योग्य छात्रों के लिए कानूनी शिक्षा तक पहुंच में सुधार के लिए अपनी लंबी प्रतिबद्धता को और आगे बढ़ाती है। एलएसएटी - इंडिया टॉपर स्कॉलरशिप के दूसरे संस्करण के साथ, हमें उम्मीद है कि ये अवसर कानून के छात्रों को विश्व स्तरीय वकील बनने की उनकी यात्रा की दिशा में और सशक्त बनाएंगे।‘‘

आईडीआईए चैरिटेबल ट्रस्ट ने कहा, ‘‘प्रो. (डॉ.) शमनाद बशीर ने कानूनी ईकोसिस्टम में अधिक विविधता, समावेश और पहुंच को बढ़ावा देने के लिए आईडीआईए चैरिटेबल ट्रस्ट की स्थापना की। एलएसएसी द्वारा घोषित छात्रवृत्ति इस दिशा में एक बड़ा कदम है। हम इसी दिशा में और भी अनेक नए कदम उठाए जाने की उम्मीद करते हैं। इस तरह की और पहल जैसे कि छात्रवृत्ति, ब्रिज प्रोग्राम और सुलभ तैयारी सामग्री की आवश्यकता है। प्रो. बशीर को सम्मानित करने वाली इस अद्भुत पहल के लिए एलएसएसी को बधाई।‘‘

ये छात्रवृत्ति कानून कार्यक्रम के पहले वर्ष के लिए ट्यूशन और आवासीय शुल्क को कवर करेंगी, जो प्रत्येक छात्रवृत्ति के लिए आवंटित अधिकतम राशि तक होगी। पहले साल की किसी भी अप्रयुक्त राशि को लॉ कॉलेज के बाद के वर्ष में आगे बढ़ाया जा सकता है। भविष्य में होने वाले एलएसएसी ग्लोबल इवेंट्स के दौरान एलएसएसी® के स्कॉलर भी मौजूद रहेंगे। छात्रवृत्ति और उनके नियम और शर्तों के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया विजिट करेंःhttps://www.discoverlaw.in/scholarship-opportunities

एलएसएटी- इंडियान्न् भारत में स्नातक और स्नातकोत्तर कानून कार्यक्रमों के लिए प्रमुख प्रवेश परीक्षाओं में से एक है, जिसे शीर्ष लॉ कॉलेजों ने अपने प्रवेश मानदंडों में से एक के रूप में स्वीकार किया है। आवेदक www.discoverlaw.in/register-for-the-test पर जाकर 17 मई, 2020 को होने वाली एलएसएटी- इंडिया परीक्षा के लिए पंजीकरण कर सकते हैं। discoverlaw.in/resources पर डाउनलोड करने के लिए निशुल्क उपलब्ध सामग्री का उपयोग करके परीक्षा की तैयार कर सकते हैं।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad