समाज को निर्बाध सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध जेएंडके बैंक - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, June 13, 2019

समाज को निर्बाध सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध जेएंडके बैंक


J&K Bank committed to rendering uninterrupted services to all segments of the society

जम्मू और कश्मीर में बैंक की शाखाओं और कार्यालयों में सभी व्यावसायिक संचालन सामान्य रूप से जारी
बैंक अपने ध्येय वाक्य ‘सुरक्षित हाथों में‘ और ‘समर्थ बनाने के लिए सेवा‘ को लेकर प्रतिबद्ध

श्रीनगर  । राज्य के स्वामित्व वाली प्रमुख वित्तीय संस्था जेएंडके बैंक, समाज को निर्बाध सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। बैंक के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर  राजेश कुमार छिब्बर ने आश्वासन दिया है कि बैंक, जेएंडके बैंक के निदेशक मंडल, जेएंडके सरकार के पूर्ण समर्थन और जेएंडके बैंक परिवार के 14000 मजबूत ’सुरक्षित हाथों’ में बने रहने को लेकर आश्वस्त है।

जम्मू-कश्मीर बैंक परिवार के प्रमुख के रूप में जिम्मेदारी संभालने के बाद चेयरमैन ने बैंक के सम्मानित ग्राहकों के साथ संबंधों को और मजबूत करने का आश्वासन देते हुए राज्य, बैंक और ग्राहकों की प्रगति और समृद्धि के लिए काम करने का वचन दिया। बैंक अपने आदर्श वाक्य ’सर्विंग टू एम्पॉवर’ के लिए प्रतिबद्ध है और बैंक के ग्राहकों सहित सभी हितधारक बैंक की स्थिरता और वादों को लेकर आश्वस्त रह सकते हैं।

बैंक के भविष्य को लेकर भरोसा जताते हुए  राजेश कुमार छिब्बर ने कहा, ’बैंकिंग उद्योग में उभर रहे वर्तमान परिदृश्य के मद्देनजर मुझे दी गई जिम्मेदारी और अधिक महत्वपूर्ण हो गई है। हम न केवल चुनौतियों का सामना करेंगे, बल्कि बैंक के सभी संबंधित हितधारकों और समर्पित कार्यबल के समर्थन के साथ नए कदम बढ़ाएंगे। हम बैंक को नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे।’

बैंक के साथ अपने निरंतर जुड़ाव के बारे में बताते हुए, सीएमडी ने कहा, ’मुझे इस बैंक का हिस्सा बने हुए तीन दशक से अधिक हो गए हैं और मैं इस सम्मानित संस्थान की ताकत के साथ जुड़ा हुआ हूं, जो एक बड़े परिवार का लोकाचार और दायित्व निभाते हुए अभी भी उच्च पेशेवर तरीके से काम कर रहा है। जब मैं बड़े परिवार की बात करता हूं, इसका मतलब है कि मैं अपने ग्राहकों को जेके बैंक परिवार का सदस्य मानता हूं।’

सीएमडी ने आगे कहा कि ’बैंक के कर्मचारियों में विश्वास बढ़ा है, ’कार्य, निश्चित रूप से कठिन है, लेकिन प्रतिभा, समर्पण, हमारे कर्मचारियों के जुनून और मुंह बोलती हमारी उपलब्धियां हमें हमारे पोषित लक्ष्यों को आगे भी हासिल करने में सक्षम रखेंगी।’



No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad