इंडिया डायबिटीज केयर इंडेक्स के अनुसार जयपुर में HbA1c का स्तर बढ़ा - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Tuesday, December 3, 2019

इंडिया डायबिटीज केयर इंडेक्स के अनुसार जयपुर में HbA1c का स्तर बढ़ा





HbA1c लंबे समय तक ब्‍लड शुगर नियंत्रण का सर्वाधिक अनुशंसित संकेत है
·         जयपुर में पिछले एक वर्ष में HbA1c का औसत स्तर 8.26 प्रतिशत से बढ़कर 8.37 प्रतिशत हो गया
·         शहर में 54 वर्ष की औसत आयु वाले लगभग 11,400 लोग इस विश्लेषण का हिस्सा थे, जिनमें 60 प्रतिशत पुरूष और 40 प्रतिशत महिलाएं थीं



जयपुर, नोवो नोर्डिस्क एज्युकेशन फाउंडेशन ने ‘इम्पैक्ट इंडियाः 1000-डे चैलेन्ज’ प्रोग्राम के अंतर्गत इंडिया डायबिटीज केयर इंडेक्स की पहले वर्ष की रिपोर्ट प्रकाशित की है। इस रिपोर्ट के अनुसार जयपुर में लंबी अवधि के ब्‍लड शुगर नियंत्रण का सर्वाधिक अनुशंसित संकेत HbA1c लेवल 8.26 प्रतिशत से बढ़कर 8.37 प्रतिशत पहुंच गया है।
HbA1c की जाँच 3 महीने के लिये ब्‍लड शुगर नियंत्रण के औसत स्तर का अनुमान देती है। शहर में 54 वर्ष की औसत आयु वाले लगभग 11,400 लोग इस विश्लेषण का हिस्सा बने, जिनमें 60 प्रतिशत पुरूष और 40 प्रतिशत महिलाएं थीं।
इस रिपोर्ट के बारे में डॉ. सैलेश लोढा, डीएम एण्‍डोक्रिनोलॉजिस्‍ट, इटर्नल हॉस्‍पीटल ने कहा, ‘‘जयपुर में HbA1c के स्तर का बढ़ना गंभीर चिंता का विषय है। मधुमेह का अधिक प्रभावी नियंत्रण करने के लिये हमें ठोस प्रयास करने होंगे। मधुमेह से पीड़ित लोग भी स्वस्थ जीवन जी सकते हैं, यदि वे स्वास्थ्यवर्धक आहार लें और नियमित आधार पर अपने ब्‍लड शुगर लेवल की जाँच करें।’’
इस प्रोग्राम के बारे में नोवो नोर्डिस्क एज्युकेशन फाउंडेशन के ट्रस्टी डॉ. अनिल शिंदे ने कहा, ‘‘नोवो नोर्डिस्क में हम लगभग 100 वर्षों से चेंजिंग डायबिटीज पर काम कर रहे हैं। इम्पैक्ट इंडिया पहल के साथ हमने एक महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा है और उम्‍मीद है कि हम भारत को डायबिटीज प्रबंधन में एक रोल मॉडल के तौर पर देखेंगे। ‘‘इम्पैक्ट इंडियाः 1000-डे चैलेन्ज’’ प्रोग्राम भारत में अनियंत्रित डायबिटीज की बढ़ती चिंता को दूर करने के लिये पेश किया गया था।’’
यह प्रोग्राम एक वर्ष पहले लॉन्च किया गया था, ताकि भारत में डायबिटीज के अपर्याप्त नियंत्रण की समस्या को सम्बोधित किया जा सके। इस प्रोग्राम का उद्देश्य है HbA1c के राष्ट्रीय औसत को घटाकर 1 प्रतिशत करना, जिससे भारत में डायबिटीज से सम्बंधित जटिलताओं का जोखिम कम करने में मदद मिल सकती है। iDCI®  (इंडियन डायबिटीज केयर इंडेक्स) इस प्रोग्राम का हिस्सा है, जो वर्ष 2018 में प्रस्तुत किया गया था, ताकि देश में डायबिटीज केयर में सुधार लाया जा सके। बिग डेटा एनालिटिक्स के आधार पर iDCI®  भारत के चयनित शहरों में औसत HbA1c का रियल-टाइम व्यू दे रहा है। इम्पैक्ट इंडिया प्रोग्राम के अंतर्गत स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों (डॉक्टरों और पैरामेडिक्स) के साथ भागीदारी के लिये डिजिटल प्लेटफॉर्म्स का उपयोग किया जा रहा है, ताकि भारत में डायबिटीज के उपचार को बेहतर किया जा सके। iDCI® एक डायनैमिक टूल है, जो न सिर्फ डायबिटीज केयर की स्थिति बताता है बल्कि स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों (एचसीपी) एवं समाज के बीच जागरूकता फैलाने, उन्‍हें प्रेरित करने तथा संवेदनशील बनाने में भी मदद करता है।
इम्पैक्ट इंडिया प्रोग्राम स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों (एचसीपी), समाज/रोगी के साथ संलग्‍नता  और निगरानी द्वारा संवाद के जरिये अगले दो वर्षों में तीन बिन्दुओं वाले अपने दृष्टिकोण को जारी रखेगा।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad