टर्टलमिंट ने सिक्वॉईया इंडिया की अगुवाई में 25 मिलियन अमेरिकी डॉलर के फंडिंग राउंड को क्लोज किया - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, January 17, 2019

टर्टलमिंट ने सिक्वॉईया इंडिया की अगुवाई में 25 मिलियन अमेरिकी डॉलर के फंडिंग राउंड को क्लोज किया



Turtlemint Closes USD 25 Million funding


जयपुर। इंश्योरेंस डिस्ट्रीब्यूशन के क्षेत्र में एक लीडर के रूप में उभरते टेक-आधारित प्लेटफॉर्म टर्टलमिंट ने सिक्वॉईया इंडिया की अगुवाई में मौजूदा निवेशकों नेक्सस वेंचर पार्टनर्स और ब्लूम वेंचर्स से भागीदारी के साथ 25 मिलियन अमेरिकी डॉलर के फंडिंग राउंड को क्लोज किया है।
टर्टलमिंट प्रोपराइटरी एल्गोरिदम और रिच डेटा एनालिटिक्स के आधार पर ग्राहकों को सिफारिशें प्रदान करता है। कंपनी 700 से अधिक शहरों में लगभग 25,000 लाइसेंस प्राप्त बीमा विशेषज्ञों  की जरूरतों को पूरा करती है, ताकि ग्राहकों को अपने प्रोपराइटरी मिंट प्रो ऐप की सहायता से बीमा खरीद का चयन करने और पूरा करने में मदद मिल सके।
हर तिमाही में वॉल्यूम दोगुना होने के साथ, यह मॉडल भारत में टियर 2 शहरों में बीमा एजेंटों के लिए कैरियर के अवसरों को बढ़ाने के साथ-साथ ग्राहकों के लिए टर्टलमिंट को बीमा पैठ बढ़ाने में मदद करने में बेहद सफल रहा है।
टर्टलमिंट के को-फाउंडर  धीरेंद्र महयावंशी ने कहा, ‘‘बहुत सारे ग्राहक उपलब्ध पॉलिसियों के बारे में ऑनलाइन रिसर्च पर निर्भर रहते हैं और आखिरकार ऐसे प्रतिनिधि से ही अपने लिए बीमा पॉलिसी खरीद लेते हैं, जिनसे वे व्यक्तिगत तौर पर बातचीत कर पाते हैं। इस फासले को ही दूर करने के लिए हमने मिंट प्रो को विकसित किया है।‘‘
टर्टलमिंट के को-फाउंडर आनंद प्रभुदेसाई इसी क्रम में आगे कहते हैं, ‘‘ मिंट प्रो ऐप विभिन्न कंपनियों से उनके ग्राहकों के लिए लागू बीमा पॉलिसियों के विक्रय में पॉइंट ऑफ सेल्स की मदद करता है - जीवन से लेकर स्वास्थ्य तक और मोटर बीमा तक - एक साधारण ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से, जिसमें कोई कागजी कार्रवाई की आवश्यकता नहीं होती है। यह सब उनके स्मार्टफोन पर किया गया है।” मुंबई आधारित स्टार्टअप अपने डिजिटल नेटवर्क को देशभर में फैलाने के लिए इस फंड का इस्तेमाल करेगा।
सिक्वॉईया केपिटल इंडिया एडवाइजर्स के प्रिंसीपल श्री हर्षजीत सेठी कहते हैं, ‘‘टर्टलमिंट ने एक नए मॉडल का बीड़ा उठाया है, जो न केवल बीमा क्षेत्र में नए एजेंट ला रहा है, बल्कि उन्हें डिजिटल सेवी बनाते हुए अपने ग्राहकों के साथ अधिक उत्पादक और प्रभावी बनाने में मदद कर रहा है।‘‘ उन्होंने आगे कहा, ‘‘सिक्वॉईया इंडिया शुरुआती दौर से ही उनके साथ साझेदारी करने के लिए उत्साहित है - कंपनी बहुत तेजी से बढ़ रही है और देश में बीमा वितरण को बदलने के अपने रास्ते पर है।‘‘
नेक्सस वेंचर पार्टनर्स के मैनेजिंग डायरेक्टर  अनूप गुप्ता ने कहा, “बीमा मूल्य श्रृंखला का डिजिटलीकरण एक बहुत बड़ा अवसर है और इससे सभी प्रतिभागियों को लाभ होता है - ग्राहकों के लिए सही उत्पादों तक पहुंच संभव हो जाती है, एजेंटों के लिए महत्वपूर्ण व्यवसाय वृद्धि और उत्पादकता और बीमाकर्ताओं के लिए बेहतर पारदर्शिता के माध्यम से यह लाभप्रद साबित होता है। हम धीरेंद्र और आनंद की दृष्टि और एजेंटों और बीमा कंपनियों के साथ मिलकर काम करके बीमा ईको-सिस्टम को बदलने के तरीके से प्रभावित हुए हैं और हमें शुरुआती तौर पर ही उनके साथ जुडने और भागीदारी करने का विशेषाधिकार प्राप्त हुआ है।‘‘
ब्लूम वेंचर्स के पार्टनर  आशीष फाफादिया ने कहा, ‘‘हमें टर्टलमिंट की लीडरशिप और समूची टीम पर पूरा भरोसा है। हमने कंपनी को अपने शुरुआती दिनों से विकसित होते देखा है और एक एजेंट और ग्राहक के बीच बीमा की बिक्री और खरीद को बदलने के लिए उनके प्रयासों को भी हमने देखा है। ब्लूम वेंचर्स ने टर्टलमिंट के असाधारण योगदान को श्रेय दिया है, जिसने अपने टैक्नोलॉजी इनोवेशन के माध्यम से बीमा ईको-सिस्टम के लिए बहुत कुछ किया है।‘‘

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad