ओयो ने लॉन्च किया उद्योग जगत का पहला इन-ऐप एसओएस बटन - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Friday, March 8, 2019

ओयो ने लॉन्च किया उद्योग जगत का पहला इन-ऐप एसओएस बटन




: OYO SOS Launch



नई दिल्ली। दक्षिणी एशिया की सबसे बड़ी और दुनिया में होटल्स, होम्स एवं गुणवत्तापूर्ण स्पेसेज़ की सबसे तेज़ी से विकसित होती हुई चेन ओयो ने अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी के साथ अपने मेहमानों को उत्कृष्ट अनुभव प्रदान करने के लिए अपने ऐप पर एसओएस बटन का लॉन्च किया है- जो हॉस्पिटेलिटी उद्योग में पहली और अनूठी पेशकश है।
नए लॉन्च किए गए इन-ऐप एसओएस फीचर के ज़रिए मेहमान एमरजेन्सी की स्थिति में न केवल होटल स्टाफ से मदद ले सकेंगे, बल्कि विशेष रूप से प्रशिक्षित 24ग7  ओयो सेफ्टी रिस्पॉन्स टीम भी उन्हें पूरी सहायता प्रदान करेगी, इसी के साथ स्थानीय कानून प्रवर्तन अधिकारियों के साथ एक कॉल भी शुरू हो जाएगी। आज से पहली प्रावस्था के तहत 25 शहरों में इस फीचर की शुरूआत की जा रही है, जो गुरूग्राम में पायलट के रूप में पहले से चल रहा है।
ओयो भारत में अपनी 8700 से अधिक प्रॉपर्टीज़ में मेहमानों को सुरक्षित, सुविधाजनक एवं आरामदायक अनुभव प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। बजट से लेकर मिड-स्केल सेगमेन्ट में यात्रा करने वाले ज़्यादातर उपभोक्ता सुरक्षा, गुणावत्ता, लोकेशन और कीमत पर विशेष ध्यान देते हैं, ऐसे में ओयो टेक्नोलॉजी एवं ऑन-ग्राउण्ड हस्तक्षेपों के ज़रिए उपभोक्ताओं की इन सभी ज़रूरतों को पूरा कर उन्हें गुणवत्तापूर्ण अकॉमोडेशन सेवाओं का अनुभव प्रदान करती है।
साल दर साल बढ़ते यात्रियों की संख्या को देखते हुए ओयो द्वारा पेश किया गया अपनी तरह का पहला इन-ऐप एसओएस बटन ओयो होटल में चैक-इन करने वाले मेहमानों को रियल-टाईम असिस्टेन्स प्रदान करेगा, वे व्यक्तिगत सुरक्षा से जुड़े किसी भी मुद्दे को आसानी से रिपोर्ट कर सकेंगे, खासतौर पर अकेले यात्रा करने वाले मेहमान बड़ी आसानी से अपनी समस्या का समाधान पा सकेंगे। इसके अलावा ओयो ऐप पर पहले से एक सपोर्ट प्लेटफॉर्म- ओयो असिस्ट मौजूद है जो एक बटन के टच के साथ बुकिंग मोडिफिकेशन से लेकर ओयो होटल पॉलिसी के बारे में जानकारी, बुकिंग के रिफंड क्लेम तक सभी समस्याओं का समाधान उपलब्ध कराता है। अब नया एसओएस बटन ओयो द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाले चारों सुरक्षा फीचर्स के बारे में जागरुकता एवं उपयोगिता में सुधार लाएगाः
बुकिंग केे पहले, दौरान और बाद में 24ग7  टेक इनेबल्ड सहायता
पहले
दौरान
बाद में
बुकिंग से पहले और बाद में प्रॉपर्टी की वास्तविक तस्वीरों के साथ पारदर्शी ऑनलाईन बुकिंग
मेहमानों की रेटिंग ओर रिव्यू
चैक-इन पर इन-ऐप एसओएस बटन
ओयो कैप्टन/एजीएम द्वारा व्यक्तिगत सहायता, जिसका विवरण और संपर्क मेहमानों के साथ शेयर किया जाएगा।
चैक-इन के दौरान इन-ऐप फीडबैक प्रणाली
सीसीटीवी निगरानी


फेसबुक और ट्विटर पर 2.5 से 3मिनट की उद्योग जगत की अग्रणी प्रतिक्रिया
चैक-आउट के बाद प्रॉपर्टी और स्टॉफ रेटिंग सहित इन-ऐप फीडबैक प्रणाली



इन-ऐप एसओएस फीचर कैसे काम करता है?
एसओएस बटन दबाते ही एक ट्रिगर जनरेट होता है जो ओयो की 24ग7  सेफ्टी रिस्पॉन्स टीम को मेहमान, बुकिंग, लोकेशन, एमरजेन्सी कॉन्टेक्ट डिटेल आदि के बारे में एलर्ट कर देता है।
उपभोक्ता को दो विकल्प मिलते हैं- ओयो सेफ्टी रिस्पॉन्स टीम से संपर्क करें या पुलिस को फोन करें। मुद्दे की गंभीरता के अनुसार उपभोक्ता अपने लिए उचित विकल्प चुन सकता है।
अगर उपभोक्ता पहले पुलिस से संपर्क का विकल्प चुने तो एक बैक एण्ड टिकट जनरेट हो जाती है जिसे एसआरटी टीम को भेज दिया जाता है।
एसआरटी टीम को जानकारी मिलते ही वे तुरंत मामले पर कार्रवाई शुरू कर देते हैं और स्टैण्डर्डाज़्ड एसओपी के अनुसार संबंधित अधिकारियों को सूचना दी जाती है।
इसके लिए आमतौर पर रिस्पॉन्स टाईम 3 मिनट के अंदर होता है।
गंभीर मामलों के समाधान के लिए ओयो अतिरिक्त ऑन-ग्राउण्ड सपोर्ट भी देती है, जिसमें वे ग्राउण्ड पार्टनर्स जैसे स्थानीय ओयो एजीएम/ कैप्टन, ओयो की अनुबंधित निजी सुरक्षा फर्म और स्थानीय स्टाफ के माध्यम से 35 मिनटों के अंदर उपभोक्ता की समस्या हल करते हैं।
इस मौके पर आदित्य घोष, सीईओ- भारत एवं दक्षिणी एशिया, ओयो होटल्स एण्ड होम्स ने कहा, ‘‘मेहमानों की सुरक्षा और उन्हें उत्कृष्ट अनुभव प्रदान करना हमेशा से हमारी पहली प्राथमिकता रही है। ओयो में हमारा मानना है कि टेक्नोलॉजी के माध्यम से हम अपने मेहमानों को उत्कृष्ट सुविधाओं के साथ सुरक्षा भी मुहैया करा सकते हैं। आधुनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर हम आज अपने ऐप पर एसओएस बटन फीचर लॉन्च कर रहे हैं। यह बटन बुकिंग से पहले, बुकिंग के दौरान और बुकिंग के बाद मेहमानों को 24ग7टेक इनेबल्ड सहायता प्रदान करेगा और रियल टाईम में उनकी सभी समस्याएं हल करने में मदद करेगा। इस फीचर के साथ उपभोक्ता किसी भी एमरजेन्सी की स्थिति में मिनटों में सहायता पा सकेंगे जिससे हॉस्पिटेलिटी उद्योग मेें उनका भरोसा बढ़ेगा। हमारा मानना है कि इससे हमारे मेहमान, विशेष रूप से महिलाएं एवं अकेले यात्री भारत में यात्रा केे दौरान बेहद सुरक्षित अनुभव पा सकेंगे।’’
पहली प्रावस्था में दिल्ली-एनसीआर, लखनऊ, मुंबई, मेरठ, बैंगलोर, पटना, हैदराबाद, पुणे, चेन्नई, रायपुर, कोलकाता, नागपुर, अहमदाबाद, विज़ाग, भोपाल, भुवनेश्वर, चण्डीगढ़, देहरादून, गोवा, गुवाहाटी, इंदौर, जयपुर, जलंधर, जम्मू और जमशेदपुर में ओयो एसओएस बटन का लॉन्च किया जा रहा है।

 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad