एनटीपीसी विंध्याचल ने वित्त वर्ष 2018-19 में रिकॉर्ड उत्पादन किया - Karobar Today

Breaking News

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, April 4, 2019

एनटीपीसी विंध्याचल ने वित्त वर्ष 2018-19 में रिकॉर्ड उत्पादन किया


NTPC

-वित्त वर्ष 2018-19 में 37538.97 एमयू उत्पादन कर पिछले सर्वश्रेष्ठ 37496 एमयू का रिकॉर्ड पार किया

नई दिल्ली, भारत के सबसे बड़े पावर स्टेशन, एनटीपीसी के विंध्याचल सुपर थर्मल पावर स्टेशन ने वित्त वर्ष 2018-19 में 37538.97 एमयू उत्पादन कर एक रिकॉर्ड बनाया है. 4760 मेगावाट की स्थापित क्षमता वाला संयंत्र, उन्नत परिचालन क्षमता के माध्यम से 37496 एमयू के अपने पिछले सर्वश्रेष्ठ को पार करने में सक्षम रहा. कोयले से चलने वाले बिजलीघरों के लिए राष्ट्रीय औसत पीएलएफ 60.85% के मुकाबले 90.03% के वार्षिक प्लांट लोड फैक्टर (पीएलएफ) प्राप्त करने के बाद, संयंत्र एनटीपीसी स्टेशनों में दूसरा सर्वश्रेष्ठ पीएलएफ दर्ज करते हुए नेतृत्व स्थिति प्राप्त करने में सक्षम हो गया है. यद्यपि, संचालन में 13 इकाइयों (6x210 मेगावाट + 7x500 मेगावाट) का एक बड़ा बेड़ा होने के कारण, संयंत्र पिछले 10 वर्षों से लगातार 90% से अधिक की संयंत्र उपलब्धता बनाए रखने में सक्षम है.

बिजली उत्पादन के क्षेत्र में अपनी दक्षता को मजबूत करने के अलावा, संयंत्र ने पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रयास किए हैं, जो एनटीपीसी के दृष्टिकोण को दिखाता है. इसने अपनी यूनिट 13 में भारत के पहले 100% एफजीडी का सफलतापूर्वक संचालन किया है, जिससे एसओएक्स स्तर को नीचे लाने में मदद मिली है. साथ ही साथ 4X500MW इकाइयों में एफजीडी लगाना शुरू कर दिया है और शेष इकाइयों के लिए ये काम अवार्ड के चरण में है. इसके अलावा, एनओएक्स कम करने के लिए, 5X500 मेगावाट इकाइयों के लिए बॉयलर में कंब्यूशन मॉडिफिकेशन का काम किया जा रहा है. विंध्याचल ने 565केडब्लूपी रूफटॉप सौर ऊर्जा उत्पादन क्षमता स्थापित की है और साथ ही 15-मेगावाट ग्रिड कनेक्टेड सौर ऊर्जा संयंत्र का संचालन कर रहा है. अपने परिसर में ऊर्जा संरक्षण उपायों को अपनाते हुए, संयंत्र एलईडी प्रकाश व्यवस्था का उपयोग करता है और इसने इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन स्थापित किए हैं.
सीएसआर के क्षेत्र में, विंध्याचल ने एनटीपीसी के प्रमुख कार्यक्रम, बालिका शिक्षा और समग्र विकास के लिए गर्ल एम्पावरमेंट मिशन का संचालन किया है. साथ ही स्वास्थ्य और पोषण, शिक्षा और स्वच्छता पर ध्यान केंद्रित करते हुए नीति आयोग के एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम के तहत 20 ग्राम पंचायतों को अपनाया है. इसके अलावा, 2 वर्ष के लिए इसने सेवा भारत के साथ एमओयू किया है, जिसके तहत 6560 प्रोजेक्ट प्रभावित व्यक्तियों को ड्रेस डिजाइनिंग, अगरबत्ती, टेराकोटा और डिटर्जेंट बनाने के साथ-साथ डिजिटल और वित्तीय साक्षरता सुनिश्चित किया जा रहा है.

इन प्रयासों के लिए, एनटीपीसी विंध्याचल संयंत्र को संगठन और बाहरी संगठनों द्वारा सम्मानित किया गया है और इसके लिए प्रशंसा मिली है. इस स्टेशन ने व्यवसाय उत्कृष्टता पैरामीटर्स पर एनटीपीसी के सभी परिचालन स्टेशनों में प्रथम स्थान प्राप्त किया और उत्कृष्ट सीएसआर कार्यों के लिए प्रतिष्ठित शक्ति पुरस्कार भी प्राप्त किया है. बाहरी एजेंसियों से इसे कई अवार्ड मिले है. जैसे, कर्मचारी एंगेजमेंट के लिए जेनटेक-एचआर गोल्ड अवार्ड, सीआईआई नेशंल अवार्ड फॉर कस्टमर एंगेजमेंट एंड सैटिसफेक्शन प्रैक्टिसेज, प्रशिक्षण और सस्टेनेबिलिटी के लिए गोल्डन पीकॉक अवार्ड, सीआईआई द्वारा नेशंल अवार्ड फॉर एनरी एफिशिएंट यूनिट, पर्यावरण के लिए ग्रीनटेक-गोल्ड अवार्ड, साउथ एशिया टीम एक्सेलेंस अवार्ड आदि.

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad